सिटी न्यूज़

कब खत्म होंगी शिक्षामित्रों की समस्याएं? | Live शो में भावुक हुए यूपी शिक्षा मित्र फाउंडेशन अध्यक्ष

UP City News | Jul 26, 2021 09:32 PM IST

कब खत्म होंगी शिक्षामित्रों की समस्याएं? | Live शो में भावुक हुए यूपी शिक्षा मित्र फाउंडेशन अध्यक्ष

Shiksha Mitras of Uttar Pradesh are often in discussion. Even after a long legal battle for a job, Shiksha Mitras still carry out their work in difficult circumstances. The Yogi government of the state has made many announcements related to education friends recently before the elections. There are more than 1.5 lakh Shiksha Mitras in UP. The state government has made 11 holidays for everyone and no one's honorarium will be deducted. But is this enough to do? Will so many Shiksha Mitras get their due? We talked on this subject in our show 'Chacha UP Ki' and tried to know the truth.

The question is that for a long time, Shikshamitras are often forced to picket in order to get their demands fulfilled. When will the problems of Shikshamitras end? Are you angry with the government? Conversation with Dharmendra Kumar Pandey, President of SM Foundation and Dr. Manju Gupta, Metropolitan President of BJP Mahila Morcha.

उत्तर प्रदेश के शिक्षा मित्र अक्सर चर्चा में रहते हैं. नौकरी के लिए लंबी कानूनी लड़ाई के बाद भी शिक्षा मित्र आज भी विषम परिस्थितियों में अपने कार्य को अंजाम देते हैं. प्रदेश की योगी सरकार ने चुनाव से पहले हाल में शिक्षा मित्रों से जुड़ी कई घोषणाएं की हैं. यूपी में डेढ़ लाख से भी ज़्यादा शिक्षा मित्र हैं. प्रदेश सरकार ने सभी की छुट्टियां 11 की हैं और किसी का भी मानदेय नहीं कटेगा. लेकिन क्या इतना करना काफी है? क्या इतने से शिक्षा मित्र अपने हक को पा लेंगे? इसी विषय पर हमने अपने शो 'चर्चा यूपी की' में बात की और सच जानने की कोशिश की.

सवाल है कि लंबे अरसे से शिक्षामित्रों को अपनी मांगे पूरी करवाने के लिए मजबूरन अक्सर धरना देने पड़ता है. आखिर कब खत्म होंगी शिक्षामित्रों की समस्याएं? क्या नाराज़गी है सरकार से? एस एम फ़ाउंडेशन के अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार पांडेय और भाजपा महिला मोर्चा की महानगर अध्यक्ष डॉ. मंजू गुप्ता से बातचीत...