सिटी न्यूज़

मुगलों ने बनाया था दुनिया का सबसे बड़ा सिक्का, ऐसे गया हिंदुस्तान से बाहर ||up city news

UP City News | Oct 28, 2021 11:53 PM IST

क्या आपको पता है भारत के सबसे बड़े सोने के सिक्के की ढ़लाई मुग़ल बादशाह जहांगीर (1569 – 1627) के समय हुई थी? 12 किलो ग्राम वज़नी इस सिक्के की क़ीमत एक हज़ार मोहर थी। उपलब्ध दस्तावेज़ों के अनुसार जहांगीर ने ये 1000 मोहर का सिक्का ईरानी राजदूत जमील बेग को दिया था

सन 1980 दशक के अंतिम दिनों में भारत सरकार की चिंता तब बढ़ गई जब उसे पता चला कि स्विटज़रलैंड में ऐतिहासिक धरोहर और राष्ट्रीय ख़ज़ाने की एक अनमोल चीज़ की नीलामी होने जा रही है। नीलामी ऐसे सिक्के की होने जा रही थी जो न सिर्फ खरे सोने का बना था बल्कि सबसे बड़ा सिक्का था। 12 किलो ग्राम वज़नी इस सिक्के की ढ़लाई मुग़ल बादशाह जहांगीर के समय हुई थी। उपलब्ध दस्तावेज़ों के अनुसार जहांगीर ने ये 1000 मोहर का सिक्का ईरानी राजदूत जमील बेग को दिया था। ये सिक्का नीलामी में कैसे पहुंच गया, ये पता करने में समय लगा।

जहांगीर की सोने की मोहर सारे विश्व में चर्चा का विषय बन गई थी। विडंबना ये है कि इस सिक्के को नीलामी के लिये रखने वाला और कोई नहीं बल्कि मुग़लों का पुराना जागीरदार और हैदराबाद का अंतिम निज़ाम मुक्करम जाह था जो दीवालिया हो गया था।