सिटी न्यूज़

मोदी सरकार के इस फैसले के विरोध में सड़कों पर उतरे आगरा के जूता कारोबारी,जानिए क्या था मामला

UP City News | Jan 07, 2022 01:10 AM IST

आगरा. जूते पर पांच से बढ़ाकर 12 फीसदी करने पर जूता कारोबारियांं ने बुधवार को शू मार्केट हींग की मंडी में सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया. जीएसटी की बढ़ी दरों को वापस लेने की मांग करते हुए बिजली घर, सुभाष बाजार, धाकरन, सदरभट्टी, जुलूस निकाला. साथ ही केंद्र सरकार को चेतावनी भी दी कि अगर मांगों को नहीं माना तो व्यापारी विरोध करेंगे.
केंद्र सरकार ने एक जनवरी से जीएसटी की दरों को पांच से बढ़ाकर 12 फीसदी तक कर दिया.बढ़ी दरों के विरोध में आगरा के जूता व्यापारियों ने जूलूस निकालकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की. जीएसटी की बढ़ी दर वापस लेने की मांग करते हुए बड़ी संख्या में व्यापारियों ने बिजली घर, सुभाष बाजार, धाकरान, सदर भटटी, हींग की मंडी में जुलूस निकाला. साथ ही पूरी हींग की मंडी को बंद रखा. बता दें कि अकेले हींग की मंडी में ही 25 से अधिक मार्केट हैं, जिसमें सैकड़ों दुकान बनी हैं.

आगरा शू फैक्टर्स फेडशन के अध्यक्ष गागनदास रामानी ने कहा कि 2019 से लगातार कोरोना की चपेट में आया जूता कारोबार पहले से ही पूरी तरह से चौपट हो चुकी है. ऐसे में सरकार ने पांच से बढ़ाकर 12 फीसदी करने से जूता व्यवसायी भी परेशान हैं. शू पर जीएसटी दर बढ़ाने कारोबार पूरी से पटरी से उतर जाएगा. उन्होंने जीएसटी की बढ़ी दरों के विरोध आगरा के 25 जूता कारोबार से जुड़े बाजारों में ताला तक नहीं खुला. उन्होंने कहा कि जब तक सरकार अपने फैसले को वापस नहीं लेती तब तक विरोध जारी रहेगा. इस दौरान बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे.