सिटी न्यूज़

UP City News | Mar 24, 2021 09:56 PM IST

PHOTOS: वोकल फ़ॉर लोकल के दिशा में कदम बढ़ाते हुए महिलाएं हर्बल गुलाल बनाने में जुटी

प्रयागराज में वोकल फ़ॉर लोकल के सपनों को साकार करने के लिए ललिता शास्त्री स्नेही सेवा संस्थान अग्रसर हैं. शहर पश्चिमी में समूह की महिलाएं हर्बल गुलाल बनाने में जुटी हैं.

Prayagraj news, Vocal For Local, Prayagraj Holi preparation, Herbal Gulal, Women Making Herbal Gulaal, Prayagraj Herbal Gulal, प्रयागराज समाचार, वोकल फॉर लोकल, प्रयागराज होली की तैयारी, हर्बल गुलाल, महिलाएं हर्बल गुलाल, प्रयागराज हर्बल गुलाल,

प्रयागराज के पश्चिमी के कादिलपुर गांव में समूह के सदस्य हर्बल गुलाल बनाने में जुट गई है. समूह की महिलाओं ने 5 से 10 लाख रुपए के गुलाल बनाकर प्रयागराज के हर विधानसभा में गुलाल बना कर बिक्री का लक्ष्य रखा है.

Prayagraj news, Vocal For Local, Prayagraj Holi preparation, Herbal Gulal, Women Making Herbal Gulaal, Prayagraj Herbal Gulal, प्रयागराज समाचार, वोकल फॉर लोकल, प्रयागराज होली की तैयारी, हर्बल गुलाल, महिलाएं हर्बल गुलाल, प्रयागराज हर्बल गुलाल,

यह गुलाल गुलाब पुष्प,पालक,गुलाब जल आदि मिलाकर बिना केमिकल का हर्बल गुलाल बन रहा है. एमएसएमई एवं खादी व ग्रामोद्योग विभाग सहयोग कर महिलाओं को आत्मनिर्भरता की बढ़ाने में सहयोग दे रहा है.

ad ad
Prayagraj news, Vocal For Local, Prayagraj Holi preparation, Herbal Gulal, Women Making Herbal Gulaal, Prayagraj Herbal Gulal, प्रयागराज समाचार, वोकल फॉर लोकल, प्रयागराज होली की तैयारी, हर्बल गुलाल, महिलाएं हर्बल गुलाल, प्रयागराज हर्बल गुलाल,

वोकल फ़ॉर लोकल के सपनों को साकार करने के लिए ललिता शास्त्री स्नेही सेवा संस्थान की अध्यक्ष डॉ नीता सिंह विधानसभा शहर पश्चिमी प्रयागराज से जुड़ी महिलाओं को प्रोत्साहित करने में लगी हैं.

Prayagraj news, Vocal For Local, Prayagraj Holi preparation, Herbal Gulal, Women Making Herbal Gulaal, Prayagraj Herbal Gulal, प्रयागराज समाचार, वोकल फॉर लोकल, प्रयागराज होली की तैयारी, हर्बल गुलाल, महिलाएं हर्बल गुलाल, प्रयागराज हर्बल गुलाल,

विधानसभा शहर पश्चिमी पिछले 2 सालों में लगभग तीन महिलाएं समूह ललिता शास्त्री स्नेही सेवा संस्थान से जुड़कर कई क्षेत्रों में अचार, बेकरी, टेलरिंग, अगरबत्ती तथा मोमबत्ती आदि क्षेत्रों में प्रशिक्षण लेकर टूल किट प्राप्त करते हुए लगातार आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ कर स्वावलंबी बन रही हैं.