सिटी न्यूज़

UP City News | Feb 02, 2021 03:43 PM IST

PHOTOS: सिंधु बार्डर पर लगाईं गईं नुकीली कीलें, कंटीले तार, सरकार पर व‍िपक्ष ने क‍िया हमला

स‍िंंधुु बार्डर द‍िल्‍ली पुल‍िस ने सुरक्षा व्‍यवस्‍था चाक चौबंद कर दी है. क‍िसानों को द‍िल्‍ली में आने से रोकने के ल‍िए यहां पर कीलें लगाईं गई हैं और कंटीले तार से बैरीकेड‍िंग की गई है. वहीं इसको लेकर व‍िपक्ष ने सरकार पर सवाल‍िया न‍िशान लगा द‍िया है. राहुल गांधी और प्र‍ियंका गांधी समेत तमाम नेताओं ने इसपर सवाल उठाया है.

प्रियंका गांंधी वाड्रा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर सिंघु बॉडर की वीडियो शेयर की. उसमें उन्होंने किसानों के खिलाफ उठाए कदमों पर सवाल उठाए और कहा, 'प्रधानमंत्री जी, अपने किसानों से ही युद्ध?' गौरतलब है कि प्रियंका अक्सर सरकार के उठाए कदमों पर सवालिया निशान लगाती रहती हैं. वहींं दूसरी तरफ राहुल गाँधी ने बॉडर की कुछ तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा, 'ब्रिज बनाओ दीवारे नहीं'

ad ad

दिल्ली-हरियाणा सीमा सिंघु बॉडर पर राजमार्ग का एक और हिस्सा अब ब्लॉक कर दिया गया है. वहां एक सीमेंट की दीवार खड़ी कर दी गयी हैं. पुलिसकर्मियों ने सोमवार को सिंघू बॉडर पर मुख्य राजमार्ग के एक किनारे पर सीमेंट की बाधाओं की दो रेखाओं के बीच लोहे की छड़ को झुका दिया, ताकि बॉडर पर बैठे किसान कानूनों के खिलाफ आंदोलनकारियों के आंदोलन को और अधिक प्रतिबंधित किया जा सके.

गौरतलब है क‍ि आंदोलनकारी किसानों द्वारा ट्रैक्टर परेड के दौरान 26 जनवरी को कुछ प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच हिंसक झड़पों के बाद यह कदम उठाया है ताकि अगर किसान आक्रोश में आकर कभी भी कोई कदम उठाते हैंं तो दोबारा 26 जनवरी की तरह कोई हिंसा न हो.

60 दिनों से अधिक किसानों के विरोध प्रदर्शन का केंद्र रहा है, हाल ही में सिंघु बॉडर पर किसानों और स्थानीय लोगों के बीच झड़प भी हुई थी. केंद्र सरकार के कृषि कानून के खिलाफ दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर बैठे किसानों ने 6 फरवरी को देश भर में चक्का जाम करने की चेतानवनी दी है. किसानों को आगे बढ़ने से रोकने के लिए चौकसी और बड़ा दी गयी है. 26 जनवरी की हिंसा के बाद सिंघु बॉडर पर अर्धसैनिक बलों, आरएएफ और सीआरपीएफ के सुरक्षाकर्मियों को बड़ा दिया गया है.