सिटी न्यूज़

UP City News | Feb 04, 2021 12:59 PM IST

तस्वीरों में देखे चौरी-चौरा महोत्सव चारो तरफ वंदे मातरम की गूंज, तस्‍वीरों में देखेंगे व‍िहंगम नजारा

गोरखपुर चौरीचौरा शताब्दी महोत्सव स्थल के चारों तरफ का माहौल वंदे मातरम वंदे मातरम गूँजता हुआ दिखाई दे रहा है बच्चे जवान बूढ़े सभी शहीदों की कुर्बानी को याद करते नजर आ रहे चारों तरफ सुरक्षा व्यवस्था का पुख्ता इंतजाम किया गया है वरिष्ठ अधिकारी सुरक्षा व्यवस्था पर कड़ी नजर बनाए हुए हैं.

गोरखपुर में चौरी-चौरा शताब्दी महोत्सव का आज भव्य आगाज हो गया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चौरी चौरा शताब्दी महोत्सव का शुभारंभ दीप प्रज्वलित कर किया. इसी सिलसिले में मुख्यमंत्री बुधवार को पहले ही गोरखपुर आ गए थे. वहीं राज्यपाल आनंदीबेन पटेल वर्चुअल जुड़ीं. यह महोत्सव पूरे साल चलेगा.

चौरी चौरा शताब्दी महोत्सव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्चुअल कॉन्फ्रेसिंग के जरिए इस कार्यक्रम में मौजूद रहे. पीएम मोदी ने समारोह के दौरान डाक टिकट भी जारी किया. सुबह 8:30 बजे विभिन्न स्कूल-कॉलेजों के बच्चे और लोक कलाकार चौरीचौरा शहीद स्मारक तक प्रभात फेरी निकालेंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राज्यपाल आनंदी बेन ने वर्चुअल जुड़कर कार्यक्रम में हिस्सा लिया. 

ad ad

सुबह 8:30 बजे विभिन्न स्कूल-कॉलेजों के बच्चे और लोक कलाकार चौरीचौरा शहीद स्मारक तक प्रभात फेरी निकालेंगे. चौरीचौरा शताब्दी महोत्सव स्थल के चारों तरफ का माहौल वंदे मातरम वंदे मातरम गूंंजा. बच्चे जवान बूढ़े सभी शहीदों की कुर्बानी को याद करते नजर आ रहे चारों तरफ सुरक्षा व्यवस्था का पुख्ता इंतजाम किया गया है वरिष्ठ अधिकारी सुरक्षा व्यवस्था पर कड़ी नजर बनाए हुए हैं. 

चौरीचौरा घटना के 100 साल पूरे होने के अवसर पर बृहस्पतिवार से साल भर तक गोरखपुर समेत प्रदेश के सभी जिलों में अलग-अलग कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. बताया जा रहा है कि चौरीचौरा शहीदों के सम्मान में यह अब तक का सबसे बड़ा कार्यक्रम आयोजित होने जा रहा है.

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर ये पहला मौका है, सिर्फ उत्तर प्रदेश ही नहीं जब समूचा देश शहीदों को सम्मान देने के लिए एक साथ आगे बढ़ा है. महोत्सव की तैयारियां बुधवार देर रात तक पूरी कर ली गई.

कार्यक्रम के दौरान पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी व प्रमुख सचिव मुकेश मेश्राम देर रात तक शहीद स्थल पर डटे रहे थे. वहीं पूरे कार्यक्रम की कमिश्नर जयंत नार्लिकर ने भी तैयारियों की समीक्षा की थी. शाम को पुलिस बैंड द्वारा राष्ट्रधुन का वादन होगा. शाम छह बजे चौरीचौरा समेत जिले के सभी शहीद स्थलों को दीपों से रोशन किया जाएगा. शहीदों एवं स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के परिजनों को सम्मानित भी किया जाएगा.