सिटी न्यूज़

UP City News | Dec 29, 2020 12:07 AM IST

बाल कल्याण समिति और चाइल्ड़ लाइन की टीम ने छोटे छोटे भीख मांगने वाले बच्चों का किया रेस्क्यू

बाल कल्याण समिति और चाइल्ड लाइन ने पुलिस की टीम के साथ मिलकर रोडवेज बस स्टैंड से 7 बच्चों को रेस्क्यू किया. जो बस स्टैंड पर लोगों से भीख मांग रहे थे। फिलहाल बच्चों का मेडिकल कराकर उनके परिवार को सौंपा जाएगा. साथ ही उन्हें समाज की मुख्यधारा में लाने के लिए टीम काम करेगी.

शाहजहांपुर में भीख मांगने बाले बच्चों को रेस्क्यू करने के लिए एक खास अभियान चलाया गया. बाल कल्याण समिति और चाइल्ड लाइन ने पुलिस की टीम के साथ मिलकर रोडवेज बस स्टैंड से 7 बच्चों को रेस्क्यू किया.

जो बस स्टैंड पर लोगों से भीख मांग रहे थे. फिलहाल बच्चों का मेडिकल कराकर उनके परिवार को सौंपा जाएगा. साथ ही उन्हें समाज की मुख्यधारा में लाने के लिए टीम काम करेगी.

ad ad

दरअसल शासन के आदेश पर इन दिनों 15 दिवसीय एक खास अभियान चलाया जा रहा है. जिसके तहत शाहजहांपुर में रोडवेज बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और सार्वजनिक जगहों पर छोटे-छोटे बच्चों के द्वारा भीख मांगने पर उन्हें रेस्क्यू करके समाज की मुख्यधारा में लाने का कार्यक्रम चल रहा है.

इसी अभियान के तहत बाल कल्याण समिति और चाइल्ड़ लाइन की टीम के साथ सदर बाजार पुलिस ने सबसे पहले रोडवेज बस अड्डे से 7 बच्चों को रेस्क्यू किया. बच्चे रोडवेज की बसों और रोडवेज परिसर में भीख मांग रहे थे. सभी को मेडिकल के लिए भेजा गया है. इसके बाद उनके परिवार वालों से बात करके बच्चों को समाज की मुख्यधारा में जोड़ा जाएगा.

साथ ही उनके परिवारों को सख्त हिदायत दी जाएगी कि बच्चों से भीख मंगवाना एक कानूनन अपराध है. जिसके लिए बच्चों के माता-पिता के खिलाफ कार्यवाही की जा सकती है. फिलहाल टीम का कहना है कि उनका यह अभियान लगातार 15 दिनों तक जारी रहेगा.