सिटी न्यूज़

इलाहाबाद विश्वविद्यालय में छात्र और विवि प्रशासन हुआ आमने-सामने, छात्रों ने बुलंद की आवाज

इलाहाबाद विश्वविद्यालय में छात्र और विवि प्रशासन हुआ आमने-सामने, छात्रों ने बुलंद की आवाज
UP City News | Jan 13, 2021 02:37 PM IST

प्रयागराज. इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय के छात्र और विश्वविद्यालय प्रशासन एक बार फिर से आमने-सामने आ गए हैं. केंद्रीय विश्वविद्यालय के छात्र जहां पढ़ाई को लेकर वाइस चांसलर की घेराव कर रहे हैं. वहीं विश्वविद्यालय प्रशासन कोरोना का हवाला देकर पठन-पाठन संबंधित कार्य ठप किया हुआ है. मंगलवार की शाम को भी छात्र और विवि प्रशासन आमने—सामने आ गया और पुलिस तक बुलानी पड़ी पुलिस को हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा.

विश्वविद्यालय प्रशासन का कहना है कि यूजीसी की गाइड लाइन के अनुसार इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय ऑफलाइन कक्षाएं चलाने में असमर्थ हैं. इसके साथ ही हॉस्टल खोले जाने लाइब्रेरी और साइकिल स्टैंड जैसी समस्या भी बनी हुई है. यूजीसी के गाइडलाइन आते ही छात्रों से संबंधित सभी व्यवस्थाएं बहाल कर दी जाएंगे. फिलहाल इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय खुलने के बाद से ही विश्वविद्यालय परिसर में छात्रों का भारी तादाद में आना शुरू हो गया है लेकिन ऑफलाइन कक्षाएं ना चलने की वजह से छात्र इधर-उधर भटक रहे हैं.

इसके साथ ही बाहर से आने वाले छात्रों को छात्रावास ना मिलने की वजह से खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. ना ही विश्वविद्यालय में लाइब्रेरी खोली गई है जहां छात्र शिक्षा ग्रहण कर सकें. पिछले 2 दिन से वाइस चांसलर ऑफिस का घेराव कर रहे छात्र परीक्षा तिथि की घोषणा होने के बाद से बेहद नाराज हैं. छात्रों की मांग है कि ऑफलाइन कक्षाएं चलाईं जाएं और परीक्षा की तिथि को आगे बढ़ाया जाए. इसके साथ ही लाइब्रेरी छात्रावास को भी खोला जाए.

इन मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे छात्रों और विश्वविद्यालय प्रशासन में नोकझोंक भी हुई. जिसके बाद विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से पुलिस बुला ली गई. विश्वविद्यालय परिसर में प्रयागराज पुलिस ने छात्रों पर लाठीचार्ज की और भीड़ को तितर-बितर किया. बावजूद छात्र और विश्वविद्यालय प्रशासन एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते रहे विश्वविद्यालय प्रशासन के रवैया से आए दिन परिसर में प्रदर्शन ,घेराव होता रहता है.