सिटी न्यूज़

चचेरी बहन से दुष्कर्म करने वाले आरोपित को कोर्ट ने जमानत देने से किया इंकार

चचेरी बहन से दुष्कर्म करने वाले आरोपित को कोर्ट ने जमानत देने से किया इंकार
UP City News | Nov 30, 2021 12:02 AM IST

प्रयागराज. इलाहाबाद हाई कोर्ट ने चचेरी बहन  के साथ दुष्कर्म करने वाले सजा याफ्ता को जमानत देने से इंकार कर दिया है. कोर्ट ने कहा है कि सजा याफ्ता ने भाई बहन के रिश्ते को कलंकित किया है. उसने समाज के  ताने बाने को ध्वस्त किया है. इसलिए उसको जमानत देना समाज के साथ न्याय नहीं होगा. इस मामले में पीलीभीत का देवेश सजा याफ्ता है. उसने अपने कजिन से दुष्कर्म किया था.

जिससे सजा याफ्ता ने दुष्कर्म किया था. उस पीड़िता ने बच्चे को जन्म दिया है. अभियोजन पक्ष को पीडि़ता ने समर्थन किया है। हाईकोर्ट ने कहा कि सजा याफ्ता जमानत पाने का हकदार नहीं है. जबकि आरोपित देवेश का कहना है कि उसने दुष्कर्म ही नहीं किया है. उसे गलत तरीके से फंसाया गया है.अदालत ने सबूतों को सही से परिशीलन नहीं किया है.

जबकि अदालत ने सबूतों का सही परिशीलन नहीं किया है। चश्मदीद गवाहों के बयान भी इस तरह के नहीं है जिन्हें स्वीकार किया जाए लेकिन उन्हें स्वीकार किया है. वहीं पीड़िता उस समय बालिग थी जब घटना का घटित होना बताया जा रहा है.  जबकि दोनों एक ही परिवार के हैं. ऐसे में डीएनए की समानता होना लाजिमी है. सिर्फ डीेएनए के आधार दोषी मान लेना सही नहीं है.

वहीं सरकारी वकील ने जमानत का विरोध किया. उसने कहा कि कि अपराध बहुत ही गंभीर है। ऐसे व्यक्ति समाज को क्या देगा जिसने समाज के बनाए गए रिश्तों को ही कलंकित किया है. इसलिए जमानत नहीं देनी चाहिए.