सिटी न्यूज़

बाराबंकी: कर्मचारी करते थे कोरोना पीड़ित मरीज के मरने का इंतजार, फिर चुरा लेते थे मोबाइल, दो गिरफ्तार

बाराबंकी: कर्मचारी करते थे कोरोना पीड़ित मरीज के मरने का इंतजार, फिर चुरा लेते थे मोबाइल, दो गिरफ्तार
UP City News | May 05, 2021 09:27 AM IST

बाराबंकी. उत्तर प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर सरकार से लेकर स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है. हर रोज तीस हजार से अधिक मरीज निकल रहे हैं. तो सैकड़ों की मौत भी हो रही है. ऐसे में बाराबंकी के कोविड अस्पताल से बेहद शर्मनाक घटना सामने आई है. यहां के को​विड अस्पताल के कर्मचारी कोरोना से मरने वाले मरीजों के मोबाइल चोरी कर लेते थे. दो मृतकों के परिजनों ने उनके मोबाइल चोरी होने की शिकायत पुलिस से की. मामले की जांच की गई तो शिकायत को ठीक पाया गया. इस पर एक महिला सहित दो लोगों को अरेस्ट किया गया है. साथ ही अब प्रशासन ने इस पर जांच बैठा दी है.
दरअसल अस्पताल में जब मरीज कर्मचारियों को अपना मोबाइल चार्ज करने के लिए देते थे तो कर्मचारी उनका फोन चार्ज कर वापस मरीजों को कर देते थे. इस दौरान अगर किसी मरीज की मौत हो जाती है तो उनका फोन अस्पताल कर्मचारी चुरा लेते थे. मरीज के परिजनों को यह फोन नहीं दिया जाता था.
पूरा मामला बाराबंकी जिले के नगर कोतवाली क्षेत्र मेयो हाॅस्पीटल का है. जहां दो मृतकों के परिजनों ने उनके मोबाइल फोन चोरी होने की शिकायत की है. जब पुलिस ने जांच की तो अस्पताल में काम करने वाले एक पुरूष और चतुर्थ श्रेणी की महिला को इस मामले में अरेस्ट किया गया है. पुलिस की पूछताछ में दोनों आरोपियों ने बताया कि मरीज अपना फोन चार्जिंग के लिए हमें देते थे. इस दौरान अगर किसी मरीज की मौत हो जाती थी तो उनका फोन हम रख लेते थे.
पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने बताया कि पिछले दिनों मेया अस्पताल में कोरोना के चलते दो मरीजों की मौत हुई थी. मरीजों के परिजनों ने पुलिस से शिकायत की थी. मरीजों के सामान के साथ उनका फोन वापस नहीं दिया गया. मोबाइल फोन गायब है. उन्होंने बताया कि पुलिस ने इस मामले में अस्पताल के दो कर्मचारियों को अरेस्ट किया है. आरोपियों ने मोबाइल को पुलिस को सौंप दिया है. यमुना प्रसाद ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.