सिटी न्यूज़

अमेठी: साईकिल चोरी हुई तो दलित युवकों को काम के बहाने बुलाकर दी तालिबानी सजा

अमेठी: साईकिल चोरी हुई तो दलित युवकों को काम के बहाने बुलाकर दी तालिबानी सजा
UP City News | Jun 10, 2021 07:42 PM IST

अमेठी. उत्तर प्रदेश के अमेठी में दबंगों ने पांच दलित युवकों को मुर्गा बनाकर चलाया और उनकी पिटाई की. इस मामले का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है. पुलिस पूरे मामले की छानबीन में जुट गई है.

जानकारी के अनुसार वायरल वीडियो जिले के मुंशीगंज कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत मुसवापुर चौराहे का है. जहां दबंगों ने बंदोईया गांव के 5 दलितों को बुलाकर उन्हें तालिबानी सजा सुनाते हुए हाथ बांधकर मुर्गे की तरह चलाया और उन्हें इसी हालत में पीछे से डंडों से पीटा भी है. वीडियो 5 जून का बताया जा रहा है.

बताया जा रहा है कि मुसवापुर चौराहे पर स्थित बुढ़ऊ बाबाधाम के पास गांव वालों ने एक भंडारे का आयोजन किया था. आयोजन में ही रामदैपुर निवासी बशीर अहमद के लड़के की साइकिल चोरी हो गई थी. चोरी के खुलासे के लिए मुसवापुर के आधा दर्जन दबंगों ने बंदोइया गांव के 5 दलित लड़कों को काम करने के बहाने बुलाया, लड़कों के वहां पहुंचते ही दबंगों ने उनसे चोरी गई साइकिल के एवज में 700–700 भरपाई किए जाने के लिए कहा. इसी बीच दबंगों ने तालिबानी अंदाज में पांचो लड़कों का हाथ बांधकर उन्हें मुर्गे की तरह चलने के लिए कहा और पीछे से दबंगों ने डंडे भी बरसाने शुरू कर दिए.

गांव निवासी कालिका प्रसाद ने बताया कि, दबंगों ने मेरे बेटे जयप्रकाश, सुसैन, मोहित सहित 5 लड़कों को जमकर मारा पीटा. दबंगों ने मारने-पीटने के बाद पीड़ितों से वहां का पूरा काम कराकर 700–700 रुपए जल्द से जल्द दे जाने के लिए आगाह भी किया. पीड़ित के पिता मामले की तहरीर मुंशीगंज कोतवाली में देने गए लेकिन पुलिस ने दबंगों के प्रभाव में आकर मुकदमा नही दर्ज किया. पुलिस का कहना है कि वो अभी मामले में जांच कर रही है.