सिटी न्यूज़

Moradabad News : रेलवे की कंपनी गोदाम के सुरक्षाकर्मियों को बंधक बनाकर लाखों रुपये की लूट

Moradabad News : रेलवे की कंपनी गोदाम के सुरक्षाकर्मियों को बंधक बनाकर लाखों रुपये की लूट
UP City News | Nov 28, 2021 01:48 PM IST

मुरादाबाद. बिलारी थाना क्षेत्र के राजा का सहसपुर रेलवे जंक्शन के पास ढकिया नरू सब्जी मंडी पर स्थित रेलवे के कंपनी गोदाम पर शुक्रवार रात बदमाशों ने धावा बोल दिया. बदमाश गोदाम के सुरक्षाकर्मियों को बंधक बनाकर लाखों रुपये के तांबे के तार लूटकर ले गए. शनिवार सुबह किसी प्रकार खुद को बंधनमुक्त कर सुर​क्षाकर्मियों ने अन्य लोगों को जानकारी दी. सूचवना पर सूचना पर पहुंचे सीओ और कोतवाल ने घटनास्थल का मौका मुआयना किया. सुरक्षा गार्ड की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. हालांकि पुलिस घटना को संदिग्ध मान रही है।

बिलारी के राजा का सहसपुर रेलवे जंक्शन से संभल तक इलेक्ट्रिक ट्रेन चलाने के लिए रेलवे द्वारा लाइन बनवाई जा रही है. इसके लिए रेलवे ने नोएडा की एक कंपनी को ठेका दिया है. कंपनी ने रेलवे जंक्शन के पास खाली जगह में अपना गोदाम बनाया है. यहां सामान की देखभाल के लिए सुरक्षाकर्मियों का कमरा भी बना हुआ है. गोदाम में लाखों रुपये का तांबे के तार रखे थे. शुक्रवार रात तीन—चार बदमाशों ने गोदाम में धावा बोलकर सुरक्षाकर्मी शाहिद को बंधक बना लिया और कमरे में ले गए. इसके बाद उसके हाथ पैर बांधकर कमरे में बंद कर दिया. शोर मचाने पर तमंचा दिखाकर जान से मारने की धमकी दी.

ये भी पढ़ें: फिरोजाबाद में एक ही परिवार की दो महिलाओं ने खाया विषाक्त पदार्थ, जानिए क्या रहा कारण

इसके बाद बदमाश चार बंडलों पर लिपटा लगभग 1300 मीटर लंबा तांबे का तार ले गए. शनिवार सुबह लगभग छह बजे शाहिद की मां महशर उसके लिए चाय लेकर पहुंचीं और उसे आवाज दी लेकिन दरवाजा नहीं खुलने पर उन्होंने दूसरे गार्ड सोनू को बुलाया. सोनू ने कंपनी के ओवरहेड इलेक्ट्रिक इंजीनियर अमित सरोज को मामले की जानकारी दी. इसके बाद तीनों ने मिलकर शाहिद को बंधनमुक्त कराया. सूचना पर पुलिस भी पहुंच गई. सीओ देशदीपक सिंह ने शाहिद से घटनाक्रम के बारे में पूछताछ की. सीओ ने बताया कि सुरक्षा गार्ड शाहिद की तहरीर पर तीन-चार अज्ञात बदमाशों के खिलाफ लूट की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है.

स्टॉक में रखे तार की जानकारी नहीं दे सके कंपनी प्रतिनिधि
सीओ देशदीपक सिंह ने कंपनी के इलेक्ट्रिक इंजीनियर अमित सरोज से गोदाम के स्टॉक में रखे तार के बंडलों की जानकारी ली तो वह बंडलों का स्टॉक का रिकॉर्ड सीओ को नहीं सके. इंजीनियर तारों के बंडल केा अंतिम समय देखने की भी जानकारी नहीं दे सका. ऐसे में पुलिस घटना को संदिग्ध मानकर चल रही है. सीओ देशदीपक सिंह का कहना है कंपनी के इंजीनियर और सुरक्षा गार्ड से जानकारी करने पर कुछ विरोधाभासी बातें सामने आई हैं. आसपास के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला जा रहा है.