सिटी न्यूज़

कोरोना इफेक्ट: नवमी तक विंध्याचल मन्दिर बंद, जानिए बैठक में और क्या लिए गए निर्णय

कोरोना इफेक्ट: नवमी तक विंध्याचल मन्दिर बंद, जानिए बैठक में और क्या लिए गए निर्णय
UP City News | Apr 17, 2021 02:32 PM IST

मिर्जापुर. कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए विश्व प्रसिद्ध आदिशक्ति माता विंध्यवासिनी मन्दिर का कपाट शनिवार रात से नवमी तक के लिए बन्द रहेगा. यह निर्णय श्री विंध्य पंडा समाज के व्यवस्थापिका समिति की बैठक में लिया गया. नवमी के बाद मन्दिर खोलने का निर्णय आगे की बैठक में किया जायेगा. इस दौरान माता विंध्यवासिनी का श्रृंगार पूजन आरती पंडा समाज के द्वारा होता रहेगा. मां के धाम में नवरात्रि के दिनों में पाठ करने वाले भक्तों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ झांकी से मां दर्शन कर पायेंगे.

देश प्रदेश के साथ ही मिर्जापुर में भी कोरोना मरीजों की संख्या प्रतिदिन 200 से अधिक बढ़ने से चिंतित श्रीविंध्य पंडा समाज की बैठक मंदिर परिसर में संपन्न हुई. जिसमें भक्तों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए शनिवार की अर्धरात्रि से मां का कपाट बंद कर दिया जाएगा. आम दर्शनार्थियों के लिए आवाजाही पर प्रतिबंध रहेगा. प्रतिदिन होने वाली माता विंध्यवासिनी की चार आरती अपने समय के अनुसार पंडा समाज के द्वारा होती रहेगी. उसमें कोई परिवर्तन नहीं किया गया है.

नवरात्रि में पाठ करने वाले दूरदराज से आकर ठहरने वाले भक्त प्रतिबंध के दौरान झांकी से माता विंध्यवासिनी का दर्शन कर पाएंगे. जबकि केवल दर्शन के लिए दूरदराज से आने वाले भक्तों को अपने घरों पर ही रहने का संदेश विभिन्न माध्यमों से भेजा जा चुका है. माता विंध्यवासिनी के धाम में नवरात्रि मेले के दौरान प्रतिदिन लाखों की संख्या में विभिन्न प्रदेशों से भक्त आते हैं. उनकी रक्षा और देश की सुरक्षा के लिए श्रीविंध्य पंडा समाज की व्यवस्थापिका समिति ने मन्दिर बन्द रखने का निर्णय लिया है.