सिटी न्यूज़

मौलाना अरशद मदनी देवबंद में बोले- नफरत की आग बुझाने के लिए एकजुट होना जरूरी

मौलाना अरशद मदनी देवबंद में बोले- नफरत की आग बुझाने के लिए एकजुट होना जरूरी
UP City News | Nov 25, 2021 12:12 PM IST

सहारनपुर. सहारनपुर के देवबंद में जमीयत उलमा-ए-हिंद के राष्ट्रीय अध्यक्ष और ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के नवनियुक्त उपाध्यक्ष मौलाना अरशद मदनी ने बड़ा बयान दिया. उन्होंने देश में बढ़ती सांप्रदायिकता पर चिंता जाहिर की है. उन्होंने कहा कि सांप्रदायिकता की इस लड़ाई में सभी वर्गों को शामिल करना जरूरी है और नफरत के माहौल को खत्म करने के लिए सभी को एकजुट होकर मैदान में आना होगा.

ये भी पढ़ें: Shivpal Yadav को ब्लैकमेलर कहने वाले की जुबान काटने पर 51 हजार का ईनाम घोषित

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बुधवार को जारी बयान में मौलाना अरशद मदनी ने कहा कि देश में बढ़ती हुई खतरनाक सांप्रदायिकता के संबंध में जो बातें सामने आई हैं, उनको लेकर सरकार की जो सोच और व्यवहार है और जिस तरह उन चीजों को पूरे देश में प्रस्तुत किया जा रहा है वो नफरत और पक्षपात पर आधारित है. उन्होंने कहा नफरत को रोकने के लिए हमारे पास कोई ताकत नहीं है, लेकिन इसके उलट जो लोग ऐसा कर रहे हैं, उनके पास सत्ता की ताकत है. जिसे आज की दुनिया में सबसे बड़ी ताकत समझा जाता है. मगर आज भी ऐसी निराशाजनक स्थिति में आशा और विश्वास के चिराग रौशन हैं. देश का एक बड़ा वर्ग ऐसा है जो देश की वर्तमान स्थिति को गलत समझता है. एक विशेष वर्ग के खिलाफ पिछले कुछ वर्षों से जो कुछ हो रहा है उसे वो अच्छी नजर से नहीं देखता, वो यह भी समझता है कि इस प्रकार की चीजें देश के लिए बहुत घातक हैं.

मौलाना मदनी ने कहा सांप्रदायिकता के खिलाफ जंग में हम अकेले सफलता प्राप्त नहीं कर सकते. हमें न केवल उस वर्ग को बल्कि समाज के सभी समान विचारधारा के लोगों को अपने साथ लाना होगा. नफरत और सांप्रदायिकता की इस आग को बुझाने के लिए हमें मिल जुलकर आगे आना होगा. अगर हम ऐसा करेंगे तो कोई कारण नहीं कि सांप्रदायिक ताकतों को पराजित न कर सकें.