सिटी न्यूज़

मैनपुरी: पत्नी की हत्या कर शव गायब करने के आरोप में दस साल की सजा व जुर्माना

मैनपुरी: पत्नी की हत्या कर शव गायब करने के आरोप में दस साल की सजा व जुर्माना
UP City News | Feb 23, 2021 09:28 PM IST

मैनपुरी. दहेज़ के लालच में पत्नी की हत्या कर आरोपी ने उसके शव को ही लापता कर दिया. अपनी बहन के हत्यारे ससुराल वालों के खिलाफ जयराम सिंह ने थाने में दहेज़ उत्पीडन और हत्या का आरोप लगाया था. कोर्ट ने आरोपित को 10 साल की सजा सुनाई है साथ ही उस पर 45 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है.

थाना एलाऊ के गंगदासपुर निवासी जयराम सिंह की बहन राजकुमारी की शादी 1999 में विनय कुमार निवासी भोगांव के साथ की थी. जिसके बाद भाई का आरोप है कि ससुराल वालों ने 31 मई 2003 को राजकुमारी की हत्या करके उसके शव को ही गायब कर दिया. जयराम ने विनय (बहनोई) के खिलाफ बाइक और सोने की जंजीर की मांग पूरी नहीं होने पर पत्नी की हत्या कर के शव को गायब करने की रिपोर्ट लिखाई है. पुलिस ने जांच कर के विनय के खिलाफ चार्जशीट कोर्ट में भेज दी.

मुकदमे की सुनवाई एफटीसी प्रथम जज अवनीश गौतम की कोर्ट में हुई. साथ ही अभियोजन पक्ष की ओर से वादी, विवेचक, चिकित्सक सहित गवाहों ने विनय के खिलाफ कोर्ट में गवाही भी दी. गवाही के आधार पर विनय को हत्या करके शव गायब करने का दोषी भी पाया गया. जहां एडीजीसी अनूप कुमार यादव ने विनय को कड़ी सजा देने की दलील भी दी. एफटीसी जज ने उसको 10 साल की सजा सुनाई है साथ ही उस पर 45 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है.