सिटी न्यूज़

ओप्रकाश राजभर ने क्यों कहा- मेरी प्रॉपर्टी जब्त कराना चाहते हैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, जानिए क्या है मामला

ओप्रकाश राजभर ने क्यों कहा- मेरी प्रॉपर्टी जब्त कराना चाहते हैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, जानिए क्या है मामला
UP City News | Jul 22, 2021 10:54 AM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ युवाओं को डराने की कोशिश कर रहे हैं. युवाओं के हक में आवाज उठाने पर प्रॉपर्टी जब्त करने की धमकी दे रहे है. मुख्यमंत्री जी 69000 शिक्षक भर्ती में 5844 पद पिछड़े, दलित का हक क्यों लुटा? प्रदेश के नौजवान अपने हक की आवाज़ न उठा सके, इसलिए आप धमकी देकर उनकी आवाज़ को खामोश करना चाहते है. यह आरोप दलित नेता ओमप्रकाश राजभर ने प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर लगाए हैं. इस संबंध में उन्होंने बुधवार सुबह एक ​ट्वीट भी किया.

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष और दलित नेता ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने साढ़े चार वर्ष तक पिछड़े दलित,वंचित वर्ग के हकों को लूटने का काम किया है. उन्होंने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि आप चिंता ना कीजिए मुख्यमंत्री जी भागीदारी संकल्प मोर्चा अब आपको दोबारा सीएम की कुर्सी पर बैठने नहीं देगी. धमकी का जबाब 2022 में जरूर दिया जाएगा. प्रदेश का युवा आपकी जमानत जब्त कराने के लिए बूथ पर तैयार बैठा हैं. अब आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को मुंह की खानी पड़ेगी.

इससे पहले बुधवार को ओमप्रकाश राजभर ने कहा था कि हजारों ओबीसी और एससी सीटों को लूटने वाली योगी सरकार पात्र अभ्यर्थियों पर बर्बरतापूर्वक लाठीचार्ज करवाती जो कि निंदनीय है. हर लाठी का हिसाब 2022 में भाजपा को चुकाना पड़ेगा. वहीं नीट में ओबीसी आरक्षण बहाल करने की लड़ाई लड़ रहे मंडल आर्मी चीफ की गिरफ्तारी भाजपा सरकार की हिटलरशाही का जीता-जागता उदाहरण है. राजभर ने कहा कि कितनों को गिरफ्तार कर लो? तानाशाह सरकार, यह आंदोलन नहीं रुकेगा. राजभर ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार. पिछड़ों और दलितों का विनाश करने में लगी है.