सिटी न्यूज़

सड़कों को गड्ढा मुक्त बनाने का लक्ष्य पूरा नहीं हुआ, 150 से अधिक ईओ पर लटकी कार्रवाई की तलवार

सड़कों को गड्ढा मुक्त बनाने का लक्ष्य पूरा नहीं हुआ, 150 से अधिक ईओ पर लटकी कार्रवाई की तलवार
UP City News | Nov 26, 2021 10:44 AM IST

लखनऊ. प्रदेश की सड़कों को गड्ढा मुक्त बनाने और नवीनीकरण का लक्ष्य पूरा नही हुआ है. इस कारण निकायों में 150 से अधिक ईओ पर विभागीय कार्रवाई की तलवार लटक रही है. इस मामले में विभाग की ओर से ईओ से जल्द ही नोटिस भेजकर स्पष्टीकरण मांगा जा सकता है. निदेशालय की ओर से संबंधित निकायों के अधिशासी अधिकारियों को अंतिम मौका 1 सप्ताह के भीतर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं.

ये भी पढ़ें: गर्लफ्रेंड के घर लड़के की हत्या, सेप्टिक टैंक में छिपाई लाश,upnews, news, uttarpradesh, uppolice, breakingnews, hindinews, dailynews, uttarpradeshnews, up, todaynews कुल्हाड़ी से कान भी काटे

जानकारी के अनुसार निदेशालय की ओर से संबंधित निकायों के अधिशाससी अधिकारियों को अंतिम मौका 1 सप्ताह के भीतर रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं. इसमें प्रदेश की सड़कों को गड्‌ढामुक्त करने और नवीनीकरण का लक्ष्य पूरा नहीं होने के कारण निकायों के 150 से अधिक ईओ पर ‌विभागीय कार्रवाई की तलवार लटक रही है. विभाग की ओर से जल्द ही ईओ को नोटिस भेजकर स्पष्टीकरण मांगा जा सकता है

इधर 10 प्रमुख सड़कों का मरम्मत कार्य शुरू

लोक निर्माण विभाग ने शहर की 10 प्रमुख सड़कों पर मरम्मत कार्य शुरू कर दिया है. इसमें इंदिरानगर, विकासनगर और कुर्सी रोड की सड़कें शामिल हैं. पीडब्ल्यूडी अधिकारियों के मुताबिक नगर निगम से पीडब्ल्यूडी को 49 सड़के हैंडओवर हुई हैं. ये सड़कें 500 मीटर से अधिक लंबी और सात मीटर चौड़ी हैं. शासन स्तर से इंदिरा नगर, विकासनगर के लिए 15 करोड़ रुपये व आशियाना की सड़कों के लिए 28 करोड़ रुपये आवंटित हुये हैं. पहले चरण में 10 सड़कों पर मरम्मत कार्य शुरू हो गया है. लोकनिर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता मनीष वर्मा ने बताया कि इंदिरानगर सेक्टर-25, लेखराज मार्केट, शालीमार चौराहा, आम्रपाली चौराहा, रिंग रोड, भूतनाथ मंदिर मार्ग, अयोध्या रोड, मामा चौराहा, गुलाचीन मंदिर मार्ग सहित कई सड़कों की मरम्मत कराई जा रही है. उन्होंने बताया कि 20 दिसम्बर तक कार्य पूरा हो जाएगा.

पिछले कई वर्षों से सड़कों की मरम्मत नहीं हुई थी: अधिशासी अभियंता के मुताबिक नगर निगम में बजट के अभाव में पिछले कई वर्षों से सड़कों की मरम्मत नहीं हो पा रही थी. जिसके बाद शासन ने शहर की प्रमुख 49 सड़कों को नगर निगम से पीडब्ल्यूडी को हैंडओवर कर दिया था. सभी सड़कों की मरम्मत कार्य पर लगभग 100 करोड़ रुपये की लागत आयेगी। उन्होंने बताया कि अगले चरण में गोमतीनगर, आशियाना सहित अन्य 38 सड़कों का मरम्मत कार्य कराया जाएगा.