सिटी न्यूज़

पुलिस को चकमा देकर लखीमपुर के लिए निकले शिवपाल सिंह यादव, गिरफ्तार

पुलिस को चकमा देकर लखीमपुर के लिए निकले शिवपाल सिंह यादव, गिरफ्तार
UP City News | Oct 04, 2021 06:44 PM IST

लखनऊ. प्रगतिशील समाजवादी (लोहिया )पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव पुलिस को चकमा देकर लखीमपुर खीरी के लिए निकल पड़े. शिवपाल यादव और उनके समर्थकों का काफिला शहीद पथ हाईकोर्ट होते हुए इंजीनियरिंग कॉलेज चौराहे के पास पहुंचा तो ट्रैफिक रोक कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. यहां से उन्हें पुलिस लाइन ले जाया गया. इस दौरान शिवपाल यादव के समर्थकों और पुलिस के बीच तीखी झड़प भी हुई.

सुबह प्रगतिशील समाजवादी(लोहिया) पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव को लखनऊ स्थित उनके आवास पर हाउस अरेस्ट कर दिया गया था. भारी पुलिस बल और बैरीकेडिंग के बावजूद पुलिस को चकमा देकर वह लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हो गए थे. जिन्हें पुलिस ने रास्ते में गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस लाइन में प्रधानमंत्री को संबोधित चार सूत्री मांग पत्र लखनऊ प्रशासन को सौंपा. शिवपाल यादव की ओर से सौंपे गए पत्रक में गृह राज्य मंत्री को बर्खास्त करने और उनके पुत्र को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की गई है. इसके अलावा दोषी पुलिस कर्मियों एवं प्रशासनिक अधिकारियों के विरूद्ध कठोर दंडात्मक कार्रवाई करने, घटना की निष्पक्ष व न्यायिक जांच कराए जाने और मृतकों के परिजनों को एक-एक करोड़ का मुआवजा  दिए जाने और परिवार के किसी एक सदस्य को नौकरी दिए जाने की मांग की गई है.

इस दौरान शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि लखीमपुर खीरी की घटना स्वतंत्र भारत के इतिहास की सबसे दुखद व बर्बर घटनाओं में से एक है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि शांतिपूर्ण सत्याग्रह कर रहे अन्न दाताओं को स्वतंत्र भारत में अपने स्वर को मुखर करने की कीमत अपनी जान देकर चुकानी पड़ रही है. सत्ता अन्नदाताओं के सत्याग्रह को निर्ममता से कुचल रही है. पहले किसानों पर लाठीचार्ज हुआ, वाटर कैनन का प्रयोग किया गया और अब किसानों को वाहन रौदने की  बर्बरता की गई.