सिटी न्यूज़

पुलिस ने एक करोड़ 51 लाख रुपये किए जब्त, साढ़े चार करोड़ रुपये की पकड़ी शराब

पुलिस ने एक करोड़ 51 लाख रुपये किए जब्त, साढ़े चार करोड़ रुपये की पकड़ी शराब
UP City News | Jan 14, 2022 08:35 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने बताया कि आबकारी एवं पुलिस विभाग द्वारा अब तक 4.69 करोड़ रूपये से अधिक मूल्य की 2,13,675 लीटर शराब जब्त की गयी हैं. इसके अतिरिक्त पुलिस विभाग की कार्रवाई में अब तक 1.51 करोड़ रूपये से अधिक का कैश बरामद किया गया है. इसी प्रकार नारकोटिक्स एवं पुलिस विभाग द्वारा अब तक 8.61 करोड़ रूपये मूल्य का लगभग 2607 किग्रा गांजा जब्त किया गया है.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि स्वतंत्र, निष्पक्ष, शांतिपूर्ण, समावेशी एवं कोविड सुरक्षित मतदान के लिए प्रदेश की कानून व्यवस्था के साथ आदर्श आचार संहिता को प्रभावी रूप से लागू किया गया है. इसी परिप्रेक्ष्य में पुलिस, आयकर, आबकारी, नारकोटिक्स एवं अन्य विभागों द्वारा कार्यवाही की जा रही है, जिसमें पुलिस विभाग द्वारा अब तक 4,15,299 लाइसेन्सी शस्त्र जमा कराये गये हैं.

अब तक 163 लाइसेन्स जब्त किये गये तथा 477 लाइसेन्सों को निरस्त किया गया है. इसी प्रकार सीआरपीसी के तहत निरोधात्मक कार्रवाई करते हुये 12,32,232 लोगों को पाबन्द किया गया. उन्होंने बताया कि आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में अब तक 51 लोगों के विरूद्ध विभिन्न धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज करायी गयी है. जिसमें से 13 लोगों के विरूद्ध विगत 24 घंटों में एफआईआर दर्ज की गयी है. इसके अतिरिक्त पुलिस विभाग द्वारा अब तक 2317 शस्त्र, 2393 कारतूस, 186 विस्फोटक एवं 36 बम बरामद किये गये.

विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2022 के परिप्रेक्ष्य में प्रदेश भर में लागू आदर्श आचार संहिता को सुनिश्चित कराने के अन्तर्गत अब तक सार्वजनिक एवं निजी स्थानों से कुल 33,61,837 प्रचार-प्रसार सामग्री हटायी गयी है. उन्होंने बताया कि 24 घंटों में सार्वजनिक स्थानों से कुल 2,38,971 प्रचार सामग्री हटाई गयी. जबकि निजी स्थलों से कुल 87,239 प्रचार सामग्री हटाई गयी है. उन्होंने बताया कि 24 घंटों में सार्वजनिक स्थलों से वाल राइटिंग के कुल 22,629, पोस्टर के 1,12,008, बैनर के 75,321 तथा 29,013 अन्य मामलों में कार्रवाई की गयी है. इसी प्रकार निजी स्थलों से वाल राइटिंग के 8,693, पोस्टर के 36,372, बैनर के 26,223 तथा 15,951 अन्य मामलों में कार्रवाई की गयी.