सिटी न्यूज़

पूरब हो या पश्चिम, हर क्षेत्र में सरपट दौड़ी साइकिल, भाजपा का ये है अपना दावा

पूरब हो या पश्चिम, हर क्षेत्र में सरपट दौड़ी साइकिल, भाजपा का ये है अपना दावा
UP City News | May 06, 2021 07:21 AM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में हुए त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों का परिणाम आ चुका है. इसे विधानसभा 2022 का सेमिफाइनल समझा जा रहा है. यही कारण रहा कि सभी पार्टियों ने पूरी ताकत के साथ इस चुनाव को अपने समर्थित प्रत्याशियों को लड़ाया. अब सभी सीटों के रिजल्ट आ चुके हैं. आए परिणाम में समाजवादी और भारतीय जनता पार्टी के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिला. हालांकि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बहुजन समाजवादी पार्टी ने भी शानदार प्रदर्शन कर किया है. मंगलवार की देर रात तक आए परिणाम के अनुसार समाजवादी पार्टी ने 660 सीटें जीतकर भाजपा के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी हैं. भाजपा ने 489 सीटें जीती हैं.

सत्ता का सेमिफइनल समझे जाने वाले पंचायत चुनाव में सपा ने शानदार प्रदर्शन करते भाजपा को पीछे छोड़ दिया है. हालांकि 2015 में हुए चुनाव में सपा को इससे ज्यादा सीटें मिली थीं.इस बार भी सपा ने भाजपा को कड़ी टक्कर देते हुए काफी बढ़त बना ली है. मंगलवार की देर रात तक आए परिणाम के अनुसार समाजवादी पार्टी ने 660 सीटें जीतकर भाजपा के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी हैं. भाजपा ने 489 सीटें जीती हैं. हालांकि भाजपा ने 900 से अधिक सीटें जीतने का दावा कर रही है.

पूर्वांचल
पूर्वांचल के गोरखपुर, बस्ती और वाराणसी व मिर्जापुर मंडल में चुनावी परिणाम के बाद सभी पार्टियों ने अपनी—अपनी जीत के दावे किए हैं. भाजपा पूर्वांचल में 118 सीटें जीतने की बात कर रही है तो सपा 171 सीटें. वहीं बसपा ने 90 सीट तो कांग्रेस को 21 सीटें मिली हैं. पूर्वांचल में 310 निर्दलीय उम्मीदवारों को जनता ने जीत दिलाई. यहां पर भाजपा के लिए आगे की लड़ाई काफी कड़ी होगी.

मध्य और अवध क्षेत्र
अवध क्षेत्र के साथ ही मध्य यूपी के अयोध्या, लखनऊ, गोंडा, अमेठी और कानपुर, इटावा, मैनपुरी, उरई में भी नुकसान हुआ है. यहां सपा ने 285 सीटें और भाजपा ने 155 सीट जीतने का दावा कर रही हैं. लखनऊ की 25 सीटों में से 10 पर सपा ने कब्जा किया है तो भाजपा ने तीन तो बसपा ने पांच सीटें जीतीं हैं. अयोध्या में सपा नेताओं ने 22 और भाजपा ने 8 सीटों पर जीत का दावा किया. गोंडा में जहां भाजपा सांसद कीर्तिवर्धन सिंह हैं और सातों विधानसभा सीटों पर भाजपा का कब्जा है, वहां सपा ने सबसे ज्यादा 30 और भाजपा ने 17 सीटें जीतीं हैं.

बुंदेलखंड
बुंदेलखंड में भाजपा को सपा और बसपा ने टक्कर दी. यहां पर भाजपा 39 सीटें जीतने का दावा कर रही है. जबकि सपा—बसपा ने इस क्षेत्र से 31—31 सीटें जीतीं हैं. कांग्रेस को महज दो सीटें ही मिली हैं. बता दें कि बुलेलखंड को बसपा का गढ़ माना जाता है.

रुहेलखंड
बरेली मंडल के जिलों में भाजपा ने 37, सपा ने 33, बसपा को 18 और कांग्रेस तीन सीटें जीतीं हैं. वहीं महान दल ने भी बरेली मंडल में दो सीटें जीतने, तो निर्दलीय प्रत्याशियों ने भी 19 सीटें जीतने का दावा किया है.

ब्रज क्षेत्र
भारतीय जनता पार्टी का गढ़ कहे जाने वाले ब्रज क्षेत्र में भी भाजपा पिछड़ती दिखी. आगरा-मथुरा में से जुड़े ब्रज क्षेत्र में भी सपा आगे दिख रही है. भाजपा ने यहां 51 सीटें और सपा ने 64 सीटें जीतने का दावा किया है. बसपा ने भी आगरा मंडल में 37 सीटों पर जीत का दावा किया है.

वेस्ट यूपी
वेस्ट यूपी में भाजपा को काफी नुकसान हुआ है. यहां पर साफ तौर पर किसान का आंदोलन का असर देखने को मिला है. इस बेल्ट से राष्ट्रीय लोकदल ने 35 सीटें जीतने का दावा किया है तो सपा के साथ रालोद का गठबंधन होने के कारण यहां पर दोनों दलों ने 76 सीटें जीती हैं. वहीं भाजपा ने छह जिलों में हापुड़, बागपत, शामली, बिजनौर, सहारनपुर और बुलंदशहर में 62 सीटें जीतने का दावा कर रही है.मुरादाबाद मंडल में भी सपा ने 33 तो भाजपा को 27 जीतने का दावा किया है.

2015 के मुकाबले कम मिली सपा को सीटें
2015 के पंचायत चुनाव में सपा ने 3121 सीटों में से 70 फीसदी यानी 2184 सीटों पर जीत दर्ज की थी लेकिन बार काफी गिरावट देखने को मिल रही है. इस बार निर्दलीयों ने भी 321 सीटों पर जीत का दावा किया है.

भाजपा का अपना दावा
सपा का नंबर वन बताया जा रहा है लेकिन इस बात को भाजपा मानने को तैयार नहीं. भाजपा ने भी खुद को नंबर वन बनाया है. उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री और सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह का दावा है कि भाजपा ने पंचायत चुनावों में 900 से ज्यादा सीटें जीती हैं और 400 निर्दलीय पार्टी के संपर्क में हैं.

किस पार्टी ने कहां कितनी सीटें जीतीं
क्षेत्र सपा भाजपा बसपा कांग्रेस रालोद निर्दलीय
पूर्वांचल 64 51 37 11 00 43
मध्य यूपी 285 155 93 18 00 221
बुंदेलखंड 31 39 31 2 00 43
रूहेलखंड 33 37 18 3 अपना दल3 38
वेस्ट यूपी 76 89 75 11 35 98
कुल सीटें 660 489 344 56 44 744
नोट: (ये आंकड़े सभी पार्टियों द्वारा मुहैया कराए गए हैं. इनमें बदलाव हो सकता है)