सिटी न्यूज़

लखनऊ: शराब पर लगा कोरोना सेस, अब जाम से जाम टकरना हुआ महंगा, जानें क्‍या नया रेट

लखनऊ: शराब पर लगा कोरोना सेस, अब जाम से जाम टकरना हुआ महंगा, जानें क्‍या नया रेट
UP City News | May 04, 2021 12:00 PM IST

लखनऊ: योगी सरकार ने शराब के दामों में एक बार फिर बढ़ोत्तरी कर दी है. कोरोना और लॉकडाउन के कारण राजस्व में कमी आने के कारण सरकार ने यह फैसला लिया है. प्रदेश सरकार ने एक अप्रैल से वापस लिए पिछले साल लगाए गए कोरोना सेस को दोबारा लागू कर दिया है. प्रदेश सरकार द्वारा आबकारी नीति में संशोधन किए जाने के बाद शराब के दाम में 10 रुपये से लेकर 40 रुपये तक की बढ़ोत्तरी हो गई है.

प्रदेश सरकार द्वारा लिए गए फैसले पर अधिकारियों ने बताया कि कोरोना की दूसरी लहर से कोरोना कफ्र्यू लगातार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में सरकार को राजस्व का घाटा हो रहा है। इसे पूरा करने के लिए आबकारी नीति 2021-22 में संशोधन किया गया है। इसे संशोधित कर सेस बढ़ाया गया है।

पिछले साल लगाया था कोरोना सेस
प्रदेश सरकार ने कोरोना के कारण 2020 में शराब पर कोरोना सेस लगाया था. हालांकि अप्रैल में आबकारी नीति को संशोधित करते हुए प्रदेश सरकार ने कोरोना सेस को हटा लिया था लेकिन एक बार फिर से सेस लगा दिया गया है।

शराब के दामों के नए रेट
सुपर प्रीमियम की 90 एमएल की बोतल पर 20 रुपये, स्कॉच पर 30 रुपये और विदेशी शराब पर 40 रुपये का सेस लगाया गया है। सरकार ने इसका शासनादेश भी जारी कर दिया है। यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है.

एक अप्रैल से लागू हुई थी नई आबकारी नीति
अप्रैल में नए वित्त वर्ष की शुरुआत में प्रदेश सरकार ने आबकारी नीति को संशोधित किया था. इस दौरान शराब की कीमतें बढ़ गई थीं. नई आबाकारी नीति में प्रदेश सरकार ने दूसरे देशों से आने वाली स्कॉच, वाइन, व्हिस्की, वोदका समेत बाकी सभी शराबों पर परमिट फीस बढ़ाई थी.

अब दोबारा से आबकारी नीति को संशोधित कर कोरोना सेस लगने से कीमतों में और इजाफा हो जाएगा. बता दें कि एक 1 अप्रैल को लागू आबकारी नीति के बाद प्रदेश में अंग्रेजी शराब 15 से 20 परसेंट तक महंगी हुई थी. वहीं बीयर की कीमतों में 10 से 20 रुपये की कमी आई थी.