सिटी न्यूज़

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का तंज- अखिलेश चुनाव लड़ने से डर रहे हैं, सुरक्षित सीट से चुनाव लड़ना चाह रहे हैं.

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का तंज- अखिलेश चुनाव लड़ने से डर रहे हैं, सुरक्षित सीट से चुनाव लड़ना चाह रहे हैं.
UP City News | Jan 19, 2022 01:01 PM IST

लखनऊ. उत्तरप्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर मुंह जुबानी जंग शुरू हो गई है. जिससे चुनाव और दिलचस्प होता जा रहा है. पार्टियां एक दूसरे पर आरोप और प्रत्यारोप लगा रही हैं. इसी क्रम में सीएम योगी आदित्यनाथ के गोरखपुर से चुनाव मैदान में उतरने के बाद समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो अखिलेश यादव के भी विधानसभा चुनाव लड़ने की खबर आ रही है. इसी बीच बीजेपी के नेता और प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ट्विटर पर अखिलेश यादव पर तंज कसा है. उन्होंने ट्विटर पर लिखा है कि अखिलेश यादव जी विधानसभा चुनाव लड़ने से डर रहे हैं. सुरक्षित ठिकाना तलाशने में उन्हें इतना समय लगा दिया.

ये भी पढ़ें: सपा-आरएलडी गठबंधन ने दो और प्रत्याशियों के नाम का किया एलान, पढ़ें किसे कहां से मिला टिकट

उन्होंने आगे लिखा, विकास की ज़मीन पर लड़ने से डरते हैं श्री अखिलेश जी, पहले बताओ 2012 से 2017 में सबसे ज़्यादा विकास कहाँ किया है.  भाजपा के विकास का मुक़ाबला नहीं कर सकते हैं श्री अखिलेश जी आप. वहीं, प्रदेश के मंत्री मोहसिन रजा ने भी अखिलेश पर निशाना साधा है.  उन्होंने कहा, वो मन से चुनाव तो नहीं लड़ने जा रहें बल्कि वो भरे मन से चुनाव लड़ने जा रहे हैं क्योंकि बीजेपी ने सीएम योगी जी और उपमुख्यमंत्री केशव जी को चुनाव लड़ाने की बात की तो इसे लेकर उनके पार्टी के सदस्य ने जरूर सवाल किया होगा कि आप क्यों नहीं चुनाव लड़ेंगे?' मोहसिन रजा आगे कहते हैं, 'मुझे नहीं लगता कि वो चुनाव लड़ना पसंद करते हैं क्योंकि मैदान में जाने वाले लोग हमेशा मैदान में दिखते हैं'

समाजवादी पार्टी प्रमुख और आजमगढ़ (यूपी) से सांसद अखिलेश यादव चुनाव मैदान में होंगे. अखिलेश यादव भी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ेंगे. इससे पहले, मंगलवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा और कांग्रेस ने मिलकर अब्दुल्ला आजम सहित अन्य वरिष्ठ नेताओं पर मुकदमे दर्ज कराएं हैं. नाहिद हसन पर दर्ज मुकदमे भी इसी श्रेणी के हैं. उन्होंने कहा कि सपा सरकार आई तो राजनीतिक मुकदमों की समीक्षा होगी और मनमाने तरीके से कार्यकर्ताओं पर दर्ज मुकदमे वापस लिए जाएंगे. वे मंगलवार को पार्टी कार्यालय में पत्रकारों से बात कर रहे थे.