सिटी न्यूज़

मांग: यूपी में जब बाजार खुल सकते हैं तो इबादतगाह क्यों नहीं

मांग: यूपी में जब बाजार खुल सकते हैं तो इबादतगाह क्यों नहीं
UP City News | Jun 10, 2021 08:30 PM IST

लखनऊ. इस्लामिक सेंटर ऑफ के चेयरमैन मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने प्रदेश सरकार से धार्मिक स्थलों खासकर मस्जिदों को खोले जाने की मांग की है. उन्होंन इस सबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है. उनसे अपील की है कि कोविड गाइड लाइन के पालन की शर्त के साथ इबादतगाहो ंको खोलने की अनुमति दी जाए.

दवा के साथ दुआ भी जरूरी
मौलाना खालिद ने कहा है कि लंबे समय तक घर में कैद रहने के कारण लोग मानसिक अवसाद और अन्य बीमारियों के शिकार हो रहे हैं. इससे नई समस्या पैदा हो रही है. इसलिए जरूरी है कि राज्य में इबादतगाहों को खोला जाए. कोरोना को भगाने के लिए दवा के साथ दुआ की भी जरूरत है.

50 फीसदी लोगों को मिले अनुमति
मौलाना ने सवाल उठाया कि सोशल डिस्टेंस के साथ बाजार खोल दिए गए हैं. इसलिए इबादतगाहों की क्षमता के अनुसार पचास प्रतिशत लोगों को इबादत करने की अनुमति मिलनी चाहिए. परिसर को सेनेटाइज कराने और कोविड गाइड लाइन का पालन करने की शर्त रखनी चाहिए.

ईद पर हुआ गाइइडलाइन का पालन
मौलान खालिद ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान रमजान का पवित्र माह गुजरा. ईद भी मनाई गई. इन पवित्र दिनों में कोविड गाइडलाइन का पूरी तरीके से पालन किया गया. कहीं भी कोविड प्रोटोकॉल का उल्लंघन नहीं हुआ.