सिटी न्यूज़

मुख्यमंत्री ने सभी असामाजिक तत्वों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई के दिए निर्देश, 109 लोग गिरफ्तार

मुख्यमंत्री ने सभी असामाजिक तत्वों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई के दिए निर्देश, 109 लोग गिरफ्तार
UP City News | Jun 10, 2022 09:38 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में हुई हिंसक घटनाओं को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी असामाजिक तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. अपने सरकारी आवास पर हुई एक उच्च स्तरीय बैठक में मुख्यमंत्री ने अपराधियों एवं शरारती तत्वों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए. जिसमें पुलिस ने लाठी चार्ज कर लोगों को खदेड़ा वही अब तक 109 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के शांति प्रिय माहौल को जो भी खराब करने को कोशिश करे प्रशासन उस के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करे. पूरे मामले में अबतक पुलिस ने 109 लोगों की गिरफ़्तारी की है. यही नहीं पूरे मामले को लेकर एसीएस (गृह), कार्यवाहक डीजीपी, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर को मामले पर पैनी नजर रखने की निर्देश जारी किए गए हैं. शुक्रवार को हुई इन घटनाओं में पुलिस ने सहारनपुर से 38, प्रयागराज से 15, हाथरस से 24, मुरादाबाद से 7, फिरोजाबाद से दो और अंबेडकरनगर से 23 असामाजिक तत्वों को गिरफ्तार किया है.

बताते चलें कि भाजपा की प्रवक्ता रही नूपुर शर्मा के पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ गलत बयानबाजी करने पर प्रदेश से ही नहीं पूरे भारत में मुस्लिम समुदाय काफी नाराज हैं. जिसके चलते शुक्रवार को मुस्लिम समुदाय ने नमाज पढ़ने के बाद सड़कों पर उतर कर धरना प्रदर्शन किया. जिसमें पुलिस ने लाठी चार्ज कर लोगों को खदेड़ा वही अब तक 109 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा है कि जो भी दोषी होगा उसे किसी भी हालत में बख्शा नहीं जाएगा. नूपुर शर्मा के बयानों को लेकर मुस्लिम समुदाय काफी नाराज चल रहा है. जिसके चलते हर रोज कोई न कोई और कहीं न कहीं घटना सामने आ जाती है.

ACS होम अवनीश अवस्थी का बयान-
उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में पुलिस प्रशासन द्वारा सभी मजिस्ट्रेट सीईओ द्वारा पर्याप्त मात्रा में पेट्रोलिंग की जा रही थी. कुछ लोग नमाज के बाद एकत्रित हुए फ़िरोज़ाबाद, मुरादाबाद, सहारनपुर में सिचुएशन कंट्रोल में रही।. इसमें कुछ लोग प्रयास कर रहे थे कि कुछ माहौल बिगड़े थोड़ा सिचुएशन खराब हुई लेकिन स्थिति कंट्रोल निकाली गई. उन्होंने कहा कि मेरा अनुरोध उन लड़कों से है ऐसा न करें अपनी बात ज्ञापन देकर बोलें सड़कों पर न आए प्रयागराज में जो हुआ उस पर कार्रवाई की जाएगी.

वही डीजीपी चौहान ने बयान देते हुए कहा कि तीन चार जिलों में जो टेस्ट हुआ है सहारनपुर, फ़िरोज़ाबाद, प्रयागराज पुलिस ने संयम से कंट्रोल किया है, कोई जनहानि नहीं हुई है, जहां दंगाइयों ने कानून अपने हाथ में लिया है, पुलिस बल ने सख्ती दिखाई है. उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने कानून हाथ में लिया है. उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी किसी को छोड़ा नहीं जाएगा.