सिटी न्यूज़

यूपी के पूर्व प्रमुख सचिव गृह का फर्जी Whatsapp प्रोफाइल बनाकर परिचितों से ठगी की कोशिश, ऐसे खुला मामला

यूपी के पूर्व प्रमुख सचिव गृह का फर्जी Whatsapp प्रोफाइल बनाकर परिचितों से ठगी की कोशिश, ऐसे खुला मामला
UP City News | Nov 26, 2021 12:21 PM IST

लखनऊ. साइबर ठगों का जाल दिन ब दिन और बढ़ता ही जा रहा है. यहां तक की अब तो साइबर क्रिमिनल्स अधिकारियों तक को निशाना बना रहे हैं. ताजा मामला यूपी के पूर्व प्रमुख सचिव, गृह आरएम श्रीवास्तव (रिटायर्ड) (former Principal Secretary Home of UP) के नाम से ठगी का आया है. ठगों ने उनके नाम से फर्जी वाट्सएप (Whatsapp) प्रोफाइल बना ली और ठगी का प्रयास कर रहे हैं. जब इसकी जानकारी आरएम श्रीवास्तव को हुई तो उन्होंने शिकायत लखनऊ व चेन्नई (Lucknow and Chennai) पुलिस की साइबर सेल में की है. हालांकि असाइबर ठग रिटायर आईएएस अधिकारी के किसी भी परिचित से रुपये नहीं ले सके.

बताया जा रहा है कि साइबर ठग आरएम श्रीवास्तव के नाम से उनके परिचितों को वाट्सएप पर संदेश भेज रहे थे, जिनमें कहा जा रहा था कि मैं शहर से बाहर हूं और तत्काल कुछ रुपये की सख्त जरूरत है. साइ​बर ठगों ने जिन लोगों से रुपये मांगे सभी से अलग—अलग रकम का जिक्र किया. उनकी कोशिश थी कि अलग—अलग लोगों से रुपये एक खाते में ट्रांसफर करवा ली जाए. किसी परिचित ने रिटायर आईएएस आरएम श्रीवास्तव को फोन ​किया तो उन्हें इस मामले की जानकारी हुई. इसके बाद बिना देर किए ही उन्होंने शिकायत कर दी.

बसपा को झटके पर झटका. वंदना सिंह के बाद विधानमंडल के नेता शाह आलम ने भी दिया इस्तीफा

हालांकि ठग किसी भी परिचित से रकम नहीं वसूल सके हैं. ठगों ने वाट्सएप की फेक प्रोफाइल बनाने के लिए तमिलनाडु का नंबर इस्तेमाल किया है. इसी आधार पर चेन्नई पुलिस की साइबर सेल से भी शिकायत की गई है. एडीजी साइबर क्राइम राम कुमार का कहना है कि सेवानिवृत्त आइएएस अधिकारी का फेक वाट्सएप प्रोफाइल बनाकर ठगी के प्रयास का मामला संज्ञान में आया है. पूर्व में ऐसी कुछ अन्य शिकायतें भी आई हैं. मामले की जांच कराई जा रही है.