सिटी न्यूज़

संजय सिंह ने पूछा, बांदा कृषि विश्वविद्यालय में 15 प्रोफेसर भर्ती हुए जिसमें 11 एक ही जाति के, ऐसा क्यों

संजय सिंह ने पूछा, बांदा कृषि विश्वविद्यालय में 15 प्रोफेसर भर्ती हुए जिसमें 11 एक ही जाति के, ऐसा क्यों
UP City News | Jun 10, 2021 04:24 PM IST

लखनऊ. आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह ने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर जमकर हमला बोला है. संजय सिंह ने प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर हमला बोलते हुए उसे दलितों और पिछड़ों की घोर विरोधी पार्टी बताया है. संजय सिंह का कहना है कि बीजेपी दलितों और पिछड़ों की विरोधी पार्टी है, यह सरकार केवल उच्च जाति के लोगों के ही हित का कार्य करती है.

आम आदमी पार्टी के यूपी प्रभारी संजय सिंह ने एक वीडियो जारी करते हुए भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोला है. संजय सिंह ने बांदा कृषि विश्वविद्यालय में हुई भर्तियों के बारे में बात करते हुए कहा कि वहां 15 प्रोफेसरों की नियुक्ति में 11 लोग एक ही जाति के चुने गए हैं. इस तरह से वर्तमान की भारतीय जनता पार्टी की सरकार दलितों और पिछड़ों की घोर विरोधी सरकार है. यह केवल उच्च जाति के लोगों के ही हित कार्य कार्य करती है. संजय सिंह ने कहा है कि बांदा कृषि विश्वविद्यालय में हुई भर्ती आरक्षण की नीतियों के एकदम उलट है.

इस दौरान संजय सिंह ने सिद्धार्थनगर में मंत्री सतीश चंद्र के भाई अरुण द्विवेदी का ईडब्ल्यूएस कोटे में नौकरी पाने के मुद्दे पर भी हमला बोला है. इसके साथ ही संजय सिंह ने योगी सरकार पर आरोप लगाया है कि हाल ही में हुई 69000 की शिक्षक भर्तियों में भी आरक्षण के नियमों की धज्जियां उड़ाई गई हैं.

आप नेता संजय सिंह ने प्रदेश की राज्यपाल से मांग की है कि वह प्रदेश में हुई इन सभी भर्तियों को तत्काल रद्द करें और फिर से इन भर्तियों की प्रक्रिया पूरी करवाए जिसमें आरक्षण के नियमों के हिसाब से भर्ती करवाई जाए.