सिटी न्यूज़

घर में ही छिपा रखे थे 115 ऑक्सीजन सिलेंडर, पुलिस भी हैरान, दो गिरफ्तार

घर में ही छिपा रखे थे 115 ऑक्सीजन सिलेंडर, पुलिस भी हैरान, दो गिरफ्तार
UP City News | May 05, 2021 08:10 AM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आक्सीजन सिलेंडरों की कालाबाजारी का मामला सामने आया है. यहां पुलिस ने एक घर पर छापेमारी की तो 100 से ज्यादा ऑक्सीजन सिलेंडर को बरामद किया है. पुलिस का कहना है कि यह अक्सीजन सिलेंडर कालाबाजारी के लिए यहां पर जमा किए गए थे. वहीं दो अन्य इलाकों से भी पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार किया है. इन लोगों के पास से भी ऑप्शन सिलेंडर बरामद हुए हैं. पुलिस का कहना है कि सौ से ज्यादा सिलेंडर बरामद होने वाले मामले में प्लांट के लोगों के भी शामिल होने की संभावना है. जांच की जा रही है.

अलीगंज एसीपी अखिलेश कुमार सिंह ने बताया कि सीतापुर रोड योजना कॉलोनी में रहने वाले करण भारद्वाज का ऑक्सीजन सप्लाई का काम करता है. सूचना मिली थी कि वह कोरोना की दूसरी लहर में बड़े पैमाने पर सिलेंडर की कालाबाजारी कर रहा है. जांच में टीम लगाई गई थी. इसके बाद पुलिस ने छापा मारा तो वहां से 115 सिलेंडर बरामद हुए हैं पुलिस ने काकोरी निवासी भारद्वाज और मेश्राम को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस का कहना था कि उन्हें इतने बड़े पैमाने पर सिलेंडर बरामद होने की उम्मीद नहं थी.

इसी तरीके से पुलिस ने गोमतीनगर इलाके में छापेमारी की तो ऐशबाग निवासी अनिल सिंह, गोमती नगर निवासी साजिद खान, बाराबंकी निवासी जितेंद्र वर्मा और नीरज रावत को यहां से गिरफ्तार किया गया है. इनके पास से 46.7 क्षमता के 5 सिलेंडर बरामद हुए हैं. इन लोगों पर आरोप है कि यह लोग 30 से 40 रुपये प्रति सिलेंडर बेच रहे थे. दो अन्य लोग भी सिलेंडर के साथ गिरफ्तार किए गए हैं.

पुलिस को शक है कि 115 सिलेंडर रखने के मामले में बिना प्लांट की सांठगांठ के ऐसा होना संभव नहीं है. एसीपी ने बताया कि यह लोग ज्यादा रुपए देकर ऑक्सीजन प्लांट से अपने सिलेंडर भरवाते थे. ऐसी बात सामने आई है. इसके बाद ज्यादा दाम पर बेचते थे. इस मामले में जांच की जा रही है जल्दी प्लांट कल पता लगा लिया जाएगा.