सिटी न्यूज़

कुछ ऐसे हर्बल ड्रिंक्स जो आपको हेल्दी के साथ फिट और स्वस्थ भी रखेंगे

कुछ ऐसे हर्बल ड्रिंक्स जो आपको हेल्दी के साथ फिट और स्वस्थ भी रखेंगे
UP City News | Jul 22, 2021 12:58 PM IST

नई दिल्ली. आप जो खाना खाते हैं बल्कि दिन भर में जो पेय पदार्थ पीते हैं वह एक स्वस्थ और संतुलित आहार का एक अनिवार्य हिस्सा है. वे आपको हाइड्रेटेड रखने में मदद करते हैं और शरीर के विभिन्न हिस्सों में मिनरल्स और विटामिनों का परिवहन करते हैं. इसके अलावा, यदि आप उनमें कुछ स्वस्थ और पौष्टिक जड़ी-बूटियाँ और बीज मिलाते हैं, तो वे आपकी इम्युनिटी को बढ़ावा देने और बीमारियों को दूर रखने में भी मदद कर सकते हैं.

इस समय दो कारणों से स्वस्थ पेय पीना और भी महत्वपूर्ण है- पहला COVID-19 के लिए सुस्ती और दूसरा भीषण गर्मी. शीतल पेय और पैकेज्ड जूस आपकी प्यास बुझाते हैं, लेकिन वे कैलोरी से भरे होते हैं और कोई पोषक तत्व प्रदान नहीं करते हैं. इसके बजाय, इन सामग्रियों का उपयोग करके गर्मियों में ठंडा और स्वस्थ बनाने के लिए अपना पेय बनाएं.

अश्वगंधा (Ashwagandha)

अश्वगंधा एक शक्तिशाली जड़ी बूटी है जिसका उपयोग सदियों से आयुर्वेद में विभिन्न बीमारियों के इलाज के लिए दवाएं तैयार करने के लिए किया जाता है. आयुर्वेदिक जड़ी बूटी सक्रिय यौगिकों जैसे अमीनो एसिड, पेप्टाइड्स, लिपिड और न्यूक्लिक एसिड के आधार से भरी हुई है, जो मुख्य रूप से इसके प्रतिरक्षा-बढ़ाने वाले गुणों के लिए जिम्मेदार हैं. अश्वगंधा को नियमित रूप से लेने से आपको तनाव, चिंता, अवसाद और खराब नींद की समस्याओं से निपटने में मदद मिल सकती है.

ब्राह्मी (Brahmi)

अश्वगंधा की तरह, ब्राह्मी का भी आयुर्वेदिक प्रथाओं में चिंता के इलाज और मानसिक स्वास्थ्य की स्थिति में सुधार के लिए उपयोग किया गया है. यह पारंपरिक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी इम्युनोग्लोबुलिन उत्पादन बढ़ाकर प्रतिरक्षा कार्य को बढ़ा सकती है. इसके अलावा, ये हर्बल दवाएं चिंता और तनाव को भी कम कर सकती हैं. इसमें मौजूद शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट मधुमेह और कैंसर जैसी अन्य पुरानी स्थितियों के इलाज में फायदेमंद हो सकते हैं.

तुलसी के बीज (Basil seeds)

एक ताज़ा स्वाद के लिए छोटे गोल और काले सब्जा के बीज आसानी से किसी भी पेय में जोड़े जा सकते हैं. तुलसी के बीज में ओमेगा-3 फैटी एसिड, विटामिन ए, बी, ई और के, कैल्शियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम और आयरन जैसे पोषक तत्व होते हैं. छोटे बीजों में फ्लेवोनोइड्स और फेनोलिक होते हैं जो प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने में मदद करते हैं और मुक्त कणों से होने वाले नुकसान को रोकते हैं.

सौंफ के बीज (Fennel seeds)

सुगंधित सौंफ के बीजों में ट्रांस-एनेथोल होता है, एक ऐसा यौगिक जो कई तरह के वायरस को बेअसर कर सकता है. सौंफ का पानी पीने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने और सूजन को कम करने में मदद मिल सकती है. यह संक्रमण के जोखिम को भी कम कर सकता है और श्वसन मार्ग को साफ कर सकता है. सौंफ के बीज विटामिन ए, विटामिन सी और बीटा कैरोटीन से भरपूर होते हैं, ये घटक अपने प्रतिरक्षा-बढ़ाने वाले गुणों के लिए जाने जाते हैं.

ख़ूसी (Khus)

गर्मियों में ताज़ा और स्वादिष्ट खस पेय अपने आप को हाइड्रेटेड रखने और अपने प्रतिरक्षा स्वास्थ्य को बढ़ावा देने का सबसे अच्छा विकल्प है. खस या वेटिवर घास से तैयार, खस की जड़ें एंटीऑक्सिडेंट का एक समृद्ध स्रोत हैं जो शरीर में मुक्त कणों से लड़कर प्रतिरक्षा को बढ़ा सकती हैं. यह जिंक से भी भरा हुआ है जो हमारी प्राकृतिक रक्षा प्रणाली का समर्थन कर सकता है और आपके घावों को जल्दी ठीक कर सकता है.