सिटी न्यूज़

जानिए क्या-क्या हो सकते हैं सिर दर्द के कारण, कैसे करें इससे खुद को महफूज

जानिए क्या-क्या हो सकते हैं सिर दर्द के कारण, कैसे करें इससे खुद को महफूज
UP City News | Jul 15, 2021 12:08 PM IST

नई दिल्ली. सिरदर्द एक ऐसा मर्ज है, जिसे हम सभी ने अपने जीवन में कभी न कभी अनुभव किया होगा. लम्बे समय तक काम करने से सर दर्द की परेशानी का सामना करना पड़ सकता है, लेकिन कुछ लोग इससे रोजाना जूझते हैं. लगातार सिरदर्द आपके काम को बाधित कर सकता है और मूड में भी बदलाव ला सकता है.  यह एक बेकार स्वास्थ्य स्थिति का संकेत भी हो सकता है या जीवन शैली की समस्याओं का. दर्द की संभावना, तीव्रता और गंभीरता को कम करने के लिए सिरदर्द की स्वच्छता का अभ्यास करना महत्वपूर्ण है.  कुछ आदतों को हटाना या उन्हें ठीक करने से गंभीर सम्सया के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है. यहां 5 बदलाव हैं जो आप अपनी दिनचर्या में ला सकते हैं.

अच्‍छा भोजन करें
सोने से लेकर उठने तक आप दिन में जो खाना खाते हैं, वह भी आपके सिरदर्द को ट्रिगर कर सकता है. कैफीन, चाय, शराब, नमकीन स्नैक्स और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों के अधिक सेवन से भी सिरदर्द हो सकता है. ध्यान दें कि कौन सा भोजन आपको सिरदर्द का कारण बनता है और दिन के समय ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन कम करने का प्रयास करें. इसके अलावा, भोजन छोड़ने से सिर में तेज दर्द भी हो सकता है. एक दिन में संतुलित भोजन करने का प्रयास करें. फल, सब्जियां और साबुत अनाज आपके नियमित भोजन का हिस्सा होना चाहिए.

अपनी मुद्रा ठीक करें
खराब मुद्रा आपको सिरदर्द के विकास के जोखिम में डाल सकती है.  अपने कंधों को झुकाकर और टेढ़ी-मेढ़ी मुद्रा में बैठने से आपके सिर, गर्दन और कंधों पर दबाव पड़ सकता है, जिससे तनाव सिरदर्द हो सकता है. यदि आपके पास बैठने की नौकरी है, तो बिस्तर पर नहीं बल्कि कुर्सी और मेज पर ठीक से बैठें. साथ ही दिन भर अपने पोस्चर को चेक करते रहें.  अपनी रीढ़ को सीधा रखें, लैपटॉप को अपनी आंखों और कंधों के स्तर पर सीधा रखें. हर घंटे के बाद ब्रेक लें.

तनाव
तनाव और माइग्रेन के सिरदर्द में तनाव का प्रमुख योगदान होता है. इसलिए, यदि आप उन लोगों में से हैं जो अक्सर सिरदर्द की समस्या से पीड़ित हैं, तो अपने तनाव के स्तर को प्रबंधित करने का प्रयास करें. ध्यान, सांस लेने के व्यायाम, योग या दिन के बीच में थोड़ी सी सैर भी आपके दिमाग को शांत कर सकती है और तनाव हार्मोन के स्तर को कम कर सकती है. यदि आप अपने तनाव के स्तर को प्रबंधित करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं तो किसी पेशेवर से सलाह लें.

धूम्रपान से बचें
ईमानदारी से, धूम्रपान का कोई स्वास्थ्य लाभ नहीं है. यह आपके फेफड़ों को नुकसान पहुंचाता है, आपके पेट के स्वास्थ्य को प्रभावित करता है और आपके प्रतिरक्षा स्वास्थ्य को भी कम करता है. अब इस लिस्ट में एक और जुड़ गया है- सिरदर्द. धूम्रपान सिरदर्द में योगदान कर सकते हैं. यदि आप एक दिन में बहुत अधिक सिगरेट पीते हैं या इसे खाली पेट पीते हैं तो दर्द तीव्र होता है. यह निकोटीन की उपस्थिति के कारण होता है, जो रक्त वाहिकाओं को संकुचित करता है और मस्तिष्क में रक्त के प्रवाह को कम करता है, जिससे तेज दर्द होता है.

नींद को पूरा करें
दिन भर काम करने के बाद, आपके शरीर को आराम करने के लिए समय चाहिए. अपने मस्तिष्क पर अतिरिक्त भार डालने और अपने सोने के समय को कम करने से सिरदर्द होगा, वजन बढ़ेगा और आपकी एकाग्रता का स्तर कम होगा. आपको स्वस्थ नींद का कार्यक्रम बनाए रखना बेहतर है.