सिटी न्यूज़

बांदा जेल में करवट बदलते गुजरी मुख्‍तार की पहली रात, यहां पढ़ें क्या मिली व्यवस्था

बांदा जेल में करवट बदलते गुजरी मुख्‍तार की पहली रात, यहां पढ़ें क्या मिली व्यवस्था
UP City News | Apr 08, 2021 07:43 AM IST

बांदा. पंजाब के रोपड़ से सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद यूपी के बांदा जेल में शिफ्ट किए गए माफिया मुख्तार अंसारी की पहली रात करवट बदलते हुए गुजर गई. आधी रात तक वो सो नहीं सका था. आधी रात के बाद उसे नींद आई. मुख्तार के लिए यहां आम कैदियों और बंदियों की तरह ही व्यवस्था थी. साधारण खाना दिया गया, जिसमें से मुख्तार ने एक रोटी और दाल खाई. सोने के लिए जमीन पर बिस्तर लगाया गया था. हालांकि ये बात और है कि सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम किए गए थे. इसके अलावा 24 घंटे चार डॉक्टरों की टीम मुख्तार अंसारी के लिए मुस्तैद रहीं.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार बुधवार की भोर में यूपी पुलिस ने माफिया मुख्तार अंसारी को बाँदा मंडल कारागार में सकुशल शिफ्ट कर दिया गया था. बांदा से 5 अप्रैल को बांदा की पुलिस टीम मुख्तार अंसारी को लेने पंजाब के रोपड जेल गयी थी. जहां से हैंडओवर की प्रक्रिया पूरी करते हुए मुख्तार को लेकर पूरी सुरक्षा व्यवस्था के साथ लगभग साढ़े 13 घंटे का सफर तय करते हुए सुबह के 4 बजकर कर 35 मिनट पर बांदा मंडल कारागार में एम्बुलेंस और पुलिस की दो गाड़िया दाखिल हुई. जेल की सभी फार्मेलटी पूरी करते हुए 5 बजकर 15 मिनट में एम्बुलेंस और सी ओ सत्य प्रकाश शर्मा की गाड़ियां बाहर निकलीं.

मुख्तार को लाने के लिए पहले से ही रूट तय था जिसमे कोई बदलाव नही किया गया था. एफबी/ओ- माफिया डॉन मुख्तार अंसारी एक बार फिर से बांदा मंडल कारागार की बैरिक नम्बर 16 में रखा गया है. अब इसके गुनाहों का हिसाब यहीं से होने वाला है. हालांकि जेल में उसके इलाज की भी व्यवस्था की गई है. जिसके लिए बांदा मेडिकल कालेज के चार डॉक्टरो का पैनल बनाया गया है जो उसके स्वास्थ्य की देखभाल करेंगे.