सिटी न्यूज़

कानपुर: जाम में फंसी एंबुलेंस में कराह रही थी गर्भवती, फिर आशा ने दिखाई सूझबूझ...

कानपुर: जाम में फंसी एंबुलेंस में कराह रही थी गर्भवती, फिर आशा ने दिखाई सूझबूझ...
UP City News | Jan 15, 2022 10:50 AM IST

कानपुर. फ्रेट कॉरीडोर के निर्माण के कारण इन दिनों भीतरगांव के निकट जाम की समस्या से लोगो को जूझना पड़ रहा है. शुक्रवार को भीतगांव के निकट ट्रकों के कारण की स्थिति पैदा हो गई. इस दौरान गर्भवती को लेकर जा रही एंबुलेंस भी जाम में फंस गई. काफी प्रयास के बाद भी नहीं निकल पाने पर गर्भवती कराहने लगी. इसके बाद आशा ने सूझबूझ का परिचय देते हुए एंबुेंलस में ही सामान्य प्रसव कराया. प्रसव के बाद जच्चा—बच्चा दोनों स्वस्थ हैं. अब दोनों को भीतरगांव सीएचसी में भर्ती करा दिया गया है.

फ्रेट कॉरीडोर के निर्माण के चलते भीतरगांव में आए दिन जाम लग जाता है. शुक्रवार दोपहर भी ट्रकों के कारण यहां जाम लग गया. इधर, भीतरगांव सीएचसी से हैलट रेफर की गई गर्भवती कोमल तिवारी को लेकर जा रही एंबुलेंस जाम में फंस गई. एंबुलेंस को गोलू और महेंद्र चला रहे थे. पौन घंटे एंबुलेंस जाम में फंसी रही. इस दौरान प्रसूता को लेबर पैन होने लगा तो महेंद्र ने एंबुलेंस को किनारे कर आशा बहू को कोमल को संभालने को कहा.

ये भी पढ़ें: पुलिस ने अवैध हथियारों की फैक्ट्री पकड़ी, चुनाव में असलहों को खपाने की थी तैयारी

इसके बाद आनन—फानन एंबुलेंस के चारों ओर चादर लगा दी गई. यह देखकर आशा बहू ने कोमल के पति राजेंद्र तिवारी से अनुमति मांगी तो उन्होंने भी जाम की स्थिति को देखते हुए मौके पर ही प्रसव कराने की अनुमति प्रदान कर दी. काफी प्रयासों से आधे घंटे के बाद प्रसूता ने एंबुलेंस में ही बच्चे को जन्म दे दिया. केयरटेकर महेंद्र ने बताया कि डिलीवरी के बाद जच्चा-बच्चा स्वस्थ हैं और दोनों को भीतरगांव सीएचसी में भर्ती कराया गया है. कोमल के परिजन भी एंबुलेंस चालक व आशा बहू की तारीफ करते नजर आ रहे हैं.