सिटी न्यूज़

कानपुर: उन्नाव केस पर ट्विटर पर बयानबाजी करने वाले 8 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

कानपुर: उन्नाव केस पर ट्विटर पर बयानबाजी करने वाले 8 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज
UP City News | Feb 23, 2021 02:59 PM IST

कानपुर. उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले केस असोहा कांड मामले में विपक्षी दल सरकार को घेरने में जुटे हैं. ट्विटर वार बड़े नेता से छुटभैय् नेता खूब कर रहे हैं. यही वजह है कि सोशल मीडिया पर उन्नाव मामले को लेकर सरकार की एक्सपर्ट टीम नजर रख रही है. वहीं उन्नाव एसपी की आईटी विंग भी पैनी नजर रख रही है. कांग्रेस नेता डॉ. उदित राज के बाद आज 8 ट्विटर हैंडलर के खिलाफ एसपी के आदेश पर उन्नाव कोतवाली में आईपीसी 153 व आईटी एक्ट के तहत भ्रामक व मनगढ़ंत खबर पर मुकदमा दर्ज कराया है.

उन्नाव के असोहा थाना क्षेत्र के बेबुरहा गांव का मामला बीते 5 दिनों से सोशल मीडिया पर छाया है. विपक्षी दल मामले को लेकर सरकार को घेर रहे हैं. आपको बता दें कि दो दलित नाबालिग बेटियों की हत्या व एक की हालत गंभीर बनी हुई है. दो दिन पहले पुलिस मामले का खुलासा करने का दावा कर रही है. कल कांग्रेस नेता पूर्व सांसद डॉ. उदित राज ने ट्वीट किया कि घटना में बलात्कार हुआ है और जबरन शवो को जलाकर अंतिम संस्कार कराया गया है.

सोशल मीडियो पर भड़काऊ पोस्ट को एसपी आनंद कुलकर्णी ने संज्ञान लेते हुए उन्नाव की सदर कोतवाली में आईपीसी 153 और आईटी एक्ट में केस दर्ज कराया है. रविवार को एसपी आनंद कुलकर्णी के निर्देश पर नीलिमा दत्ता, भीम सेना चीफ समेत 8 ट्विटर हैंडलर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है. इन लोगों के ट्विटर अकाउंट से असोहा कांड को लेकर भड़काऊ व मनगढ़ंत पोस्ट किया गया है.

लिखा गया है कि घटना में बलात्कार हुआ है और जबरन शवों को जलाकर अंतिम संस्कार कराया गया है. उन्नाव सदर कोतवाली में एसपी के आदेश पर 8 ट्विटर हैंडलर के खिलाफ आईपीसी 153 व आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है.वहीं उन्नाव पुलिस लगातर सोशल मीडिया पर नजर रखी जा रही है. एएसपी वीके पांडेय ने बताया कि नीलिमा दत्ता समेत अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है, जांच की जा रही है.