सिटी न्यूज़

क्या सच में हिस्ट्रीशीटर है बीजेपी का युवा मोर्चा का प्रदेश मंत्री, बधाई पोस्टर में हत्यारोपी का भी फोटो और नाम

क्या सच में हिस्ट्रीशीटर है बीजेपी का युवा मोर्चा का प्रदेश मंत्री, बधाई पोस्टर में हत्यारोपी का भी फोटो और नाम
UP City News | Aug 21, 2021 07:59 AM IST

कानपुर. उत्तर प्रदेश में बीजेपी ने भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) की तरफ से अरविंद राज त्रिपाठी उर्फ छोटू त्रिपाठी को प्रदेश मंत्री बनाया गया है. छोटू त्रिपाठी के प्रदेश मंत्री बनने के बाद अब बीजेपी विपक्ष के निशाने पर आ गई है. दरअसल, बीजेपी की तरफ युवा मोर्चा की प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा की गई है. पार्टी की तरफ से जारी लिस्ट में इस बार कानपुर के कुछ युवा नेताओं को जगह दी गई है. इस लिस्ट में छोटू त्रिपाठी का नाम भी है.

दरअसल, छोटू त्रिपाठी को हिस्ट्रीशीटर बताया जा रहा है. त्रिपाठी पर 16 मुकदमें दर्ज हैं. यह हिस्ट्रीशीटर उस समय चर्चा में आया था, जिस समय उसने एक बदमाश को भगाने में पुलिस से पंगा लिया था. जिसके बाद भी उसके ऊपर कोई कार्यवाही नहीं हुई थी. अरविंद राज त्रिपाठी की थाना काकादेव में हिस्ट्रीशीटर खुली है. इनके खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास, रंगदारी सहित तमाम गंभीर धाराओं में 16 मुकदमे दर्ज हो चुके हैं. 2008 में चकेरी थानाक्षेत्र में छात्र नेता सनी गिल की हत्या के मामले में अरविंद को आरोपित बनाया गया था.

History-sheeter arvind raj tripathi, state bearer of BJP's Yuva Morcha, kanpur news, BJP, Kanpur news today, UP Election news, हिस्ट्रीशीटर अरविंद राज त्रिपाठी, भाजपा के युवा मोर्चा के प्रदेश पदाधिकारी, कानपुर समाचार, भाजपा, कानपुर समाचार आज, यूपी चुनाव समाचार,

कानपुर पुलिस सनी गिल की हत्या केस में अरविंद राज त्रिपाठी को सीतापुर सेशन कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी. इस हत्याकांड में वह लंबे समय तक जेल में रहा. हालांकि बाद में हाई कोर्ट ने बाइज्जत बरी कर दिया था. अरविंद राज त्रिपाठी की हिस्ट्रीशीट पर कानपुर पुलिस कुछ भी बोलने से बच रही है. वहीं चकेरी में छात्रनेता सनी गिल की गोली मारकर हत्या करने के मामले में इस वक्त बीजेपी के युवा नेता आशीष साहू को भी कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी जिसके पुलिस की कस्टडी में आशीष साहू को जेल भेज दिया गया था.

कुछ समय के बाद जेल से छूटने पर अब आशीष साहू भारतीय जनता पार्टी की राजनीति कर रहा है. शहर में बैनर पोस्टर की बात की जाए तो इसमें ये लोग नजर आ रह हैं. वहीं दूसरी ओर उन्हें बधाई देने का सिलसिला जारी है. बैनर पोस्टर में रितेश गुप्ता नाम का व्यक्ति जो अपने आप को अधिवक्ता बताता है. जानकारी के अनुसार रितेश गुप्ता भी शहर में सट्टे का बड़ा अवैध कारोबार चलाता है इसके ऊपर भी कई आपराधिक मामले दर्ज हैं.