सिटी न्यूज़

Farrukhabad News: आवास विकास चौकी इंचार्ज सहित तीन पुलिस कर्मी लाइन हाजिर

Farrukhabad News: आवास विकास चौकी इंचार्ज सहित तीन पुलिस कर्मी लाइन हाजिर
UP City News | Oct 17, 2021 08:33 PM IST

फर्रुखाबाद. यूपी में फर्रुखाबाद के थाना मीरापुर क्षेत्र में एक जन सेवा केंद्र के संचालक से खुलेआम रिश्वत मांगने पर आवास विकास चौकी इंचार्ज सहित तीन पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया गया है. दरोगा सहित दो सिपाहियों को एसपी ने लाइन हाजिर कर दिया है. इस मामले में पिछले दिनों सर्विलांस दीवान सहित तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर उनके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई जा चुकी है.

आपको बताते चले की शहर कोतवाली में तैनात सिपाही जीतू यादव और रामनरेश कभी बर्दी नही पहनते थे. अधिकारियों की विशेष कृपा से वह कोतवाली क्षेत्र के बाहर की भी पंचायतों में अपनी टांग एसओजी बनकर फंसाते थे और अपनी जेबें भी गर्म करते थे. लिहाजा उनकी यह हरकतें जग जाहिर थी. वसूली के लिए आवास विकास चौकी अड्डा बन गयी थी. दरअसल पुलिस कर्मियों की काली करतूत का पता तब चला जब नूर नगर निवासी रंजीत सिंह पुत्र श्याम पाल मेरापुर थाने के दो सिपाही एसओजी बनकर पंहुचे और उसका अपहरण कर लिया. उसको लाकर आवास विकास चौकी में रखा गया. बाद में अमृतपुर विधायक सुशील शाक्य के हस्तक्षेप के बाद युवक को छुड़ाया गया. जिसके बाद आईजी मोहित अग्रवाल के कड़े रुख के बाद सर्विलांस सेल के दीवान सतेन्द्र यादव, रंजित सिंह और रिंकू यादव को निलंबित कर दिया गया था. लेकिन आवास विकास चौकी पर विशेष कृपा बनी थी.

आवाज विकास चौकी इंचार्ज विशेष कुमार, शहर कोतवाली के मुख्य आरोप आरक्षी जीतू यादव, आरक्षी रामनरेश को पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार मीणा ने लाइन हाजिर कर दिया, तो वही दीवान सत्येंद्र यादव फरार चल रहा है. उसकी तलाश की जा रही है. एसपी के इस निर्णय से महकमे में हड़कंप सा मच गया है.

एसपी अशोक कुमार मीणा ने बताया है कि इस मामले में जांच चल रही है जो भी दोषी पाया जाएगा उसके विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी