सिटी न्यूज़

मुश्किल: अब कबाड़ से लेकर ज्वेलरी तक सब पर कटेगा टीडीएस

मुश्किल: अब कबाड़ से लेकर ज्वेलरी तक सब पर कटेगा टीडीएस
UP City News | Jun 11, 2021 12:01 PM IST

कानपुर. कोरोना के कारण दो साल से तंगहाली से परेशान व्यापारियों के लिए अनलॉक के साथ ही नई मुश्किल खड़ी हो गई है. अब एक जुलाई से सराफा समेत छह से अधिक व्यापार पर टीडीएस की कटौती की जाएगी. इसके सीधे मायके हैं कि अब सरकार बिक्री के साथ ही खरीद की भी निगरानी करेगी. इसके लिए केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ने गजट जारी कर दिया है. सरकार का नए आदेश ने व्यापारियों के लिए समस्याएं बढ़ी दी हैं.

अब कबाड़ से लेकर सोने—चांदी के व्यपार की आनलाइन निगरानी की जाएगी. सरकार ने एक जुलाई से सराफा समेत छह व्यापारों पर टीडीएस टैक्स डिडक्ट एट सोर्स को लागू किया है. हालांकि अब तक केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड द्वारा गजट में टीडीएस की दरों का खुलासा नहीं किया है. बता दें कि अनलॉक से पहले ही सराफा के व्यापार पर टीसीएस अर्थात टैक्स एट सोर्स लागू किया था. अब सरकार की नई गाइडलाइन ने अन्य व्यापारियों की सिरदर्दी बढ़ा दी है. आर्थिक समस्याओं से जूझ रहे व्यापारी नए आदेश के बाद परेशान हैं.

वरिष्ठ कर अधिवक्ता दीपक गुप्ता ने बताया कि टीडीएस कटौती की जद में सराफा से लेकर कबाड़ के व्यापार को भी इसकी जद में रखा गया है. मोटर वाहनों की बिक्री, विदेश यात्रा के पैकेज पर भी इसे लागू किया गया है. किसी वित्तीय संस्थान से लोन लेकर यात्रा करने और एजुकेशन लोन पर भी टीडीएस देना होगा. कर अधिवक्ता अनिल आदर्श जैन ने बताया कि नए नियम का उद्देश्य कैश लेनदेन को कम करना है. इसके साथ ही नए नियम से सराफा कारोबार में लगने वाले काले धन पर लगाम लग सकेगी. सरकार चाहती है कि किसी भी व्यापार में कालेधन का प्रयो नहीं हो सके और साथ ही सभी व्यापार की निगरानी हो सकेगी.