सिटी न्यूज़

Ashish Murder Case : जहां पलटी थी विकास दुबे की गाड़ी, वहीं से हुई आशीष के हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी

Ashish Murder Case : जहां पलटी थी विकास दुबे की गाड़ी, वहीं से हुई आशीष के हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी
UP City News | Oct 17, 2021 05:24 PM IST

कानपुर. शहर से फरार होने की सूचना पर पुलिस ने आरोपियों का पीछा करना शुरू कर दिया. पुलिस को पीछा आता देखकर आशीष हत्याकांड (Ashish Murder Case) के आरोपी घबरा गए और उनकी इनोवा गाड़ी कानपुर नगर और कानपुर देहात की सीमा को जोड़ने वाले बारा टोल प्लाजा से तीन किमी पहले पलट गई. इस घटना ने कानपुर पुलिस के जेहन में विकास दुबे (Vikas Dubey) कांड को ताजा कर दिया.

बता दें कि गैंगस्टर विकास दुबे (Vikas Dubey)को उज्जैन में गिरफ्तार किए जाने के बाद पुलिस सुरक्षा में कानपुर लाया जा रहा था लेकिन कानपुर में प्रवेश के दौरान उसकी गाड़ी अनियंत्रित होकर पलट गई थी. हादसे के बाद गैंगस्टर विकास दुबे (Vikas Dubey) ने भागने की कोशिश की थी. पुलिस द्वारा नहीं रुकने पर भी गैंगस्टर का एनकाउंटर कर दिया गया था. फजलगंज थाना क्षेत्र में मेडिकल स्टोर कर्मचारी आशीष की हत्या करने के आरोपियों की गाड़ी भी ठीक उसी जगह पर पलटी जहां गैंगस्टर विकास दुबे (Vikas Dubey) की कार पलटी थी और पुलिस ने एनकाउंटर में उसे मार गिराया था. गाड़ी पलटते ही एक बार फिर कानपुर पुलिस के जेहन में विकास दुबे कांड गूंज उठा. आशीष हत्याकांड (Ashish Murder Case) के आरोपी गाड़ी पलटने से घायल हो गए थे. सभी का हैलट में प्राथमिक उपचार कराने के बाद फजलगंज थाने लाया गया.

एसएसआई चार घंटे बाद पहुंचे फिर एसीपी से की अभद्रता
फजलगंज थाने के एसएसआई उमेश यादव हत्याकांड के चार घंटे बाद मौके पर पहुंचे थे. मामले में एसीपी संतोष सिंह ने उमेश से चार घंटे से देरी में आने के बाद वजह पूछी तो बोले कि मेरा काम करने का तरीका ऐसा ही है...। इस पर एसीपी ने एसएसआई पर कार्रवाई के लिए पुलिस कमिश्नर को अपनी एक रिपोर्ट भेजने की बात कही है.