सिटी न्यूज़

ये क्या : अपने ही नियम के खिलाफ जाकर अयोग ने कर ली शिक्षकों की भर्ती, जानें क्या है मामला

ये क्या : अपने ही नियम के खिलाफ जाकर अयोग ने कर ली शिक्षकों की भर्ती, जानें क्या है मामला
UP City News | Jul 22, 2021 12:47 PM IST

प्रयागराज. उत्तर प्रदेश में अशासकीय सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती पर सवालिया निशान लग रहे हैं. दरअसल, आरटीआई में खुलासा हुआ है कि उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने अपने ही नियम शर्तों की अनदेखी कर अभ्यर्थियों को का चयन इस पद के लिए कर लिया है. ऐसे अभ्यर्थियों का चयन किया गया है, जिनके प्रतिशत अंक कम हैं. इसको लेकर अभ्यर्थी सवाल उठा रहे हैं.

मीडिया रिपोर्ट की मानें तो आयोग ने विज्ञापन संख्या 47 के समाचार विषय में अनारक्षित वर्ग में चयन किए गए 166 अभ्यर्थियों में से आरक्षित वर्ग के पांच ऐसे अभ्यर्थियों का चयन किया है जिनके अंक परास्नातक में 55 फ़ीसदी से कम हैं. आरटीआई में खुलासा हुआ है कि विज्ञापन की शर्तों के अनुसार स्नातकोत्तर स्तर पर 5 55 फीसदी अंक में अनिवार्य शैक्षिक अहर्ता थी. मेरिट में मामूली अंको से छूटने वाले अभ्यर्थियों ने आयोग से आरटीआई सूचना मांगी थी.

इसके बाद जब उनकी ओर से जानकारी दी गई तो खुलासा हुआ कि ओबीसी की 3 ऐसे अभ्यर्थियों का अनारक्षित श्रेणी में चयन हुआ है, जिन्हें पीजी में 50.90 53.30 और 54.27 फीसदी अंक मिले हैं. इसी प्रकार एससी के दो ऐसे अभ्यर्थियों का अनारक्षित वर्ग में चयन हुआ जिन्होंने पीजी में 54.29 और 52.89 फ़ीसदी अंक प्राप्त किए हैं. ऐसे में उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग पर सवालिया निशान उठ रहा है हालांकि संबंध में अभी तक आयोग की ओर से कोई जवाब नहीं सामने आया है.