सिटी न्यूज़

कोरोना संक्रमित पिता की अर्थी को कंधा नहीं दिया बेटे ने, बेटियों ने कराया अंतिम संस्कार

कोरोना संक्रमित पिता की अर्थी को कंधा नहीं दिया बेटे ने, बेटियों ने कराया अंतिम संस्कार
UP City News | Apr 24, 2021 12:12 AM IST

झांसी. थाना कोतवाली क्षेत्र के गल्ला मण्डी निवासी 58 वर्षीय गोरेलाल साहू कोरोना संक्रमण से शुक्रवार को मौत हो गई. उनकाे एक पुत्र जगदीश साहू और चार पुत्रियां हैं. गोरे लाल साहू की पुत्रवधु के मना करने के कारण पुत्र ने पिता की अर्थी को न ही कंधा दिया और न ही अंतिम संस्कार किया. वहीं चारो पुत्रियों ने बढ़ चढ़कर पिता को अंतिम यात्रा के लिए कन्धा भी दिया और पिता का अंतिम संस्कार भी किया.

जिले में कोरोना से मरने वालों की संख्या में कमी नहीं है. वहीं तरह-तरह की लापरवाही भी देखने को मिल रही है. जिला चिकित्सालय के एल.2 हॉस्पिटल में लापरवाही देखने को मिला, जब एक कोरोना संक्रमित महिला की मौत हो जाने के बाद उसका शव गायब हो गया. कुछ देर के लिए चिकित्सालय में अफरा.तफरी मच गई. इसकी सूचना जैसे ही चिकित्सा अधिकारियों को मिली तो वे मौके पर पहुँचे और स्थिति की जानकारी जुटाने लगे. कोविड वॉर्ड में उपचार करा रहे अन्य मरी़जों के परिजनों ने उन्हें बताया कि शव को लेकर उनके परिजन चले गए. आनन.फानन में चिकित्साधिकारियों ने मामले की सूचना पुलिस को दी. पुलिस ने सूचना के आधार पर परिजनों की खोज शुरू की

कोरोना का उपचार करा रही बबीना की लगभग 29 वर्षीय महिला की मौत हो गई. अस्पताल में पर्याप्त सुरक्षा कर्मी व मेडिकल स्टाफ की तैनाती नहीं होने के कारण परिजनों ने इसका फायदा उठाते हुए शव को ही गायब कर दिया. ड्यूटी पर तैनात कर्मचारी जब वॉर्ड में पहुँचे तो पलंग खाली देख हैरान रह गए. कर्मचारियों ने दौड.भाग कर शव व उनके परिजनों को खोजने का प्रयास किया लेकिन सफलता हाथ न लगी. वॉर्ड के बाहर बैठे अन्य मरी़जों के तीमारदारों ने बताया कि परिजन शव को लेकर चले गए. वॉर्ड में तैनात स्टाफ नर्स का कहना था कि मरी़ज की मौत होने के बाद जब इसकी सूचना देने वह नोडल प्रभारी के पास गई तो परिजन शव लेकर चले गए. चिकित्साधिकारियों ने मामले की जानकारी पुलिस को दी है. इस मामले में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी का कहना है कि मृतका के परिजनों ने कोविड गाइडलाइन का उल्लंघन किया है. मामले से प्रशासन को अवगत करा दिया गया है.