सिटी न्यूज़

Jhansi News : पराली जलाने वाले किसानों के आवास व क्रेडिट कार्ड होंगे निरस्त

Jhansi News : पराली जलाने वाले किसानों के आवास व क्रेडिट कार्ड होंगे निरस्त
UP City News | Nov 26, 2021 11:04 AM IST

झांसी. जिले में प्रदूषण नियंत्रण के लिए प्रशासन ने कड़े कदम उठाने का निर्णय लिया है. ऐसे में अब पराली जलाने की घटनाओं पर अंकुश लगाया जाएगा. पराली जलाने की घटनाओं की सैटेलाइट से निगरानी की जाएगी. यदि कोई किसान पराली जलाते हुए सैटेलाइट में आ गया और जांच में पुष्टि हुई तो किसान का राशन कार्ड (Ration Card) निरस्त हो जाएगा. इसके साथ ही दोषी किसान को किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card), पेंशन, प्रधानमंत्री आवास योजना और शौचालय निर्माण योजना का लाभ भी नहीं दिया जाएगा.

बता दें कि मोंठ क्षेत्र के ग्राम मबूसा, छपरा और शाहजहांपुर में पराली जलाने की घटनाएं होना आम है. हालांकि अधिकारी पराली जलाने के दौरान मौके पर नहीं पहुंच पाते हैं. ऐसे में प्रदूषण पर अंकुश नहीं लग पा रहा है. ऐसे में अब प्रशासन ने नई रणनीति तैयार की है. अब जिला कृषि अधिकारी प्रतिदिन सुबह नौ बजे से क्षेत्र में भ्रमण करेंगे और प्रधानों से संवाद करेंगे. इस दौरान किसानों को पराली नहीं जलाने के लिए जागरूक किया जाएगा. डीएम रविंद्र कुमार ने बृहस्पतिवार को पराली जलाने की घटनाओं की समीक्षा की और पाया कि पराली जलाने वाले किसानों से अभी तक जुर्माना नहीं वसूल किया गया है. मामले को गंभीरता से लेते हुए उन्होंने एडीएम को दोषी किसानों से अर्थदंड की वसूली करने के निर्देश दिए.

इधर, समीक्षा बैठक के बाद मोंठ क्षेत्र के धान उत्पादन बहुल क्षेत्र के गांव बकुवां बुजुर्ग, पसैया, भरोसा और रेव के ग्राम प्रधानों के साथ बैठक कर जिला कृषि अधिकारी कमलेश कुमार सिंह ने किसानों को पराली न जलाने के लिए जागरूक किया. उन्होंने कहा कि पराली का उपयोग खाद बनाने में किया जा सकता है. पराली जलाने से खेत की उर्वरा शक्ति नष्ट हो जाती है और पर्यावरण में हानिकारक गैसों का प्रदूषण फैलता है. इसके साथ ही पराली जलाने पर प्रशासन जुर्माने के साथ ही अन्य कड़े प्रावधान करने जा रहा है. वहीं
ग्राम बकुवां में बिना सुपर स्ट्रा मैनेजमेंट सिस्टम (एसएमएस) लगाए धान की फसल काटने पर अधिकारियों ने एक हार्वेस्टर को सीज कर दिया.