सिटी न्यूज़

झांसी: मानसिक तनाव के चलते दसवीं के छात्र ने ट्रेन के आगे कूदकर दी जान, परिवार में कोहराम

झांसी: मानसिक तनाव के चलते दसवीं के छात्र ने ट्रेन के आगे कूदकर दी जान, परिवार में कोहराम
UP City News | Jun 22, 2022 06:26 AM IST

झांसी. यूपी के झांसी में दसवीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्र ने ट्रेन के आगे कूदकर जान दे दी. इस घटना की मिलते ही स्थानीय लोगों की भीड़ एकत्रित हो गई. सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. वहीं पुलिस ने जब परिजनों से पूछताछ की तो परिजनों का कहना है कि मृतक तकरीबन पिछले 6 माह से मानसिक रूप से परेशान था. इसी परेशानी से उस ने ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली है.

बताते चलें कि सिरसा गांव के रहने वाले कृपाराम मजदूरी कर अपने परिवार का पालन पोषण करते हैं. उनका 17 वर्षीय बेटा रितिक कक्षा दसवीं का छात्र था. रोजाना की तरह सोमवार को भी खाना खाकर सो गया था. सुबह परिजनों को घर पर नहीं मिला जिसके बाद उसकी तलाश शुरू कर दी गई. इसी बीच सूचना मिली कि गांव के पास से गुजरने वाली रेलवे ट्रैक पर क्षत-विक्षत अवस्था में शव पड़ा है. परिजनों वहां पहुंचे तो ऋतिक मृत अवस्था में पड़ा हुआ मिला. जिससे परिवार में चीख-पुकार और कोहराम मच गया. सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

मृतक के परिजनों में मामा रविकांत ने बताया कि रितिक पिछले तकरीबन 6 माह से मानसिक रूप से परेशान चल रहा था. पूछने पर वह कुछ भी नहीं बताता था लेकिन हर समय किसी उधेड़बुन के चक्कर में रहता था. इसी बीच उसने आत्मघाती कदम उठा दिया है. ऋतिक के दो भाई हैं और पिता दिलीप मजदूरी कर घर का पालन पोषण करते हैं. ऋतिक के इस तरह मौत को गले लगाने से परिवार के लोगों का रो-रो कर बुरा हाल है वही मां अपना आपा खो बैठी हैं.

बता दें कि रेलवे ट्रैक पर अब तक कई मौतें हो चुकी हैं. किसी ने मानसिक तनाव के चलते आत्महत्या कर ली तो किसी ने गृह प्लेस के चलते ट्रेन के आगे कूदकर अपनी जान दे दी. फिलहाल ऋतिक नहीं मानसिक रूप के चलते ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली हैं. शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है. जिसके बाद पुलिस परिजनों को शव को सौंप देगी.