सिटी न्यूज़

यूपी सरकार ने कहा- पाकिस्तान से आ रही हवा से फैल रहा वायु प्रदूषण, सीजेआई बोले- तो क्या वहां के उद्योगों को बंद कर दें

यूपी सरकार ने कहा- पाकिस्तान से आ रही हवा से फैल रहा वायु प्रदूषण, सीजेआई बोले- तो क्या वहां के उद्योगों को बंद कर दें
UP City News | Dec 03, 2021 02:01 PM IST

नईदिल्ली. वायु प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने फटकार लगाई है. दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में खतरनाक वायु प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कड़ी फटकार लगाई है. प्रदूषण को लेकर केंद्र सरकार ने टास्क फोर्स का गठन भी कर दिया है. वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग ने शीर्ष कोर्ट में हलफनामा दायर कर कहा है कि उन्होंने वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के अपने निर्देशों के अनुपालन की निगरानी के लिए एक इंफोर्समेंट टास्क फोर्स का गठन किया है.

ये भी पढ़ें: Omicron पर अन्य टीकों से अधिक कारगर साबित होगी Co-Vaccine, एक्सपर्ट्स ने बताया यह कारण

17 सदस्यीय फ्लाइंग टास्क फोर्स बनाई गई हैं. यह टास्क फोर्स हर शाम 6 बजे रिपोर्ट लेगी. केंद्र सरकार की इस पहल पर सुप्रीम कोर्ट ने संतोष जताया है. बता दें कि गुरुवार को वायु प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और दिल्ली सरकार के खिलाफ नाराजगी जताते हुए 24 घंटे के भीतर योजना बताने को कहा था. वहीं, कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को लेकर दिल्ली सरकार द्वारा दायर हलफनामा को सुप्रीम कोर्ट ने स्वीकार कर लिया है. सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार को अस्पतालों में निर्माण कार्य करने की अनुमति दे दी है. मामले की अगली सुनवाई 10 दिसंबर को होगी.

सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर कर शहर के अस्पतालों में निर्माण कार्यों की अनुमति मांगी थी. सुप्रीम कोर्ट में दायर हलफनामे में दिल्ली सरकार ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए कुछ पुराने अस्पतालों में बुनियादी ढांचे तैयार करना शुरू कर दिया था. इसके अलावा सात नए अस्पतालों का भी निर्माण कार्य चल रहा था, लेकिन प्रदूषण बढ़ने के कारण निर्माण कार्यों पर रोक लगा दी गई थी. इस बीच फिर से कोरोना के नए वैरिएंट ने दहशत का माहौल बना दिया है. ऐसे में दिल्ली के अस्पतालों स्वास्थ्य सुविधाओं को बढ़ाना जरूरी हो गया है. शीर्ष अदालत से निर्माण कार्यों की अनुमति देने का आग्रह करते हैं. वहीं, उत्तर प्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि उद्योगों के बंद होने से राज्य में गन्ना और दूध उद्योग प्रभावित होंगे और राज्य पीछे चला जाएगा. राज्य सरकार ने कहा कि प्रदूषित हवा ज्यादातर पाकिस्तान से आ रही है. इस पर सीजेआई एनवी रमण ने चुटकी ली. मुख्य न्यायाधीश रमण ने कहा कि तो आप पाकिस्तान में उद्योगों पर प्रतिबंध लगाना चाहते हैं.