सिटी न्यूज़

प्रथम विश्व युद्ध में पहली बार सोम्मे की लड़ाई में टैंक का इस्तेमाल किया गया

प्रथम विश्व युद्ध में पहली बार सोम्मे की लड़ाई में टैंक का इस्तेमाल किया गया
UP City News | Sep 16, 2021 07:36 AM IST

नई दिल्ली. इतिहास के पन्नों को पलटेंगे तो कई ऐसी रोचक और महत्वपूर्ण तथ्य सामने आएंगे जिन्हें पहले कभी नहीं जानते थे. 15 सितंबर को पूरी दुनिया में बेहद खास घटनाएं घटी जिन्हें जानना हर नागरिक के लिए जरूरी है. बहुत सी घटनाएं बेहद सुखुद रहीं तो बहुत से हादसों में पूरे विश्व को हिलाकर रख दिया. यूपी सिटी आपको 15 सितंबर के इतिहास को आपके सामने रखने जा रहा है. जो बेहद महत्वपूर्ण है.
प्रथम विश्व युद्ध में 1916 को पहली बार सोम्मे की लड़ाई में टैंक का इस्तेमाल किया गया.द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान ब्रिटेन की वायुसेना ने 1940 में दावा किया कि इसने हिटलर की जर्मन वायुसेना को शिकस्त दे दी है.स्वतंत्र भारत का पहला ध्वजपोत आईएनएस 1948 में दिल्ली बंबई (अब मुंबई) के बंदरगाह पर पहुंचा. भारत की राष्ट्रीय प्रसारण सेवा दूरदर्शन की शुरुआत 1959 में हुई. लेबनान के निर्वाचित राष्ट्रपति बशीर गेमायेल की पदासीन होने के पूर्व ही 1982 को बम बिस्फोट में हत्या.अमरीका के सबसे बड़े बैंकों में से एक लीमैन ब्रदर्स ने 2008 में अपने आप को दिवालिया घोषित कर दिया। यह अब तक की अमरीकी इतिहास कि दिवालिया होने की सबसे बड़ी घटना थी.
15 सितंबर की महत्त्वपूर्ण घटनाएं
-नेपोलियन के नेतृत्व में 1812 को फ्रांसीसी सेना मास्को के क्रैमलिन पहुंची.
-प्योंगयांग की लड़ाई में 1894 को जापान ने चीन को करारी मात दी.
-प्रथम विश्व युद्ध में 1916 को पहली बार सोम्मे की लड़ाई में टैंक का इस्तेमाल किया गया.
-गांधी-इरविन समझौता 1931 हुआ.
-द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान ब्रिटेन की वायुसेना ने 1940 में दावा किया कि इसने हिटलर की जर्मन वायुसेना को शिकस्त दी है.
-स्वतंत्र भारत का पहला ध्वजपोत आईएनएस 1948 में दिल्ली बंबई (अब मुंबई) के बंदरगाह पर पहुंचा.
-रूसी नेता निकिता ख्रुश्चेव 1959 में अमेरिका की यात्रा करने वाले सोवियत संघ के पहले नेता बने.
-भारत की राष्ट्रीय प्रसारण सेवा दूरदर्शन की शुरुआत 1959 में हुई.
-हरी-भरी और शांति पूर्ण दुनिया के निर्माण के लिए प्रतिबद्ध ग्रीन पीस की स्थापना 1971 में की गई.
-वानुअतु संयुक्त राष्ट्र संघ का सदस्य 1981 में बना.
-लेबनान के निर्वाचित राष्ट्रपति बशीर गेमायेल की पदासीन होने के पूर्व ही 1982 को बम बिस्फोट में हत्या.
-अमेरिकी सीनेट ने 2001 में राष्ट्रपति को अफ़ग़ानिस्तान पर सैनिक कार्यवाही की मंजूरी दी.
-ब्रिटिश नागरिक गुरिंदर चड्ढा को 2004 में ‘वूमैन आफ़ द ईयर’ सम्मान.
-क्राम्पटन गीब्स ने 2008 में अमेरिका की एमएसआई ग्रुप कंपनी का अधिग्रहण किया.
-अमरीका के सबसे बड़े बैंकों में से एक लीमैन ब्रदर्स ने 2008 में अपने आप को दिवालिया घोषित कर दिया। यह अब तक की अमरीकी इतिहास कि दिवालिया होने की सबसे बड़ी घटना थी.
-पेनसुला फाउंडेशन के चेयरमैन सुब्रतो चटोपाध्याय 2009-10 के लिए ‘आडिट ब्यूरो ऑफ सर्कुलेशन’ के अध्यक्ष चुने गये.
15 सितंबर को जन्मे व्यक्ति
-फ़ारसी विद्वान् लेखक, वैज्ञानिक, धर्मज्ञ तथा विचारक अलबेरूनी का जन्म 973 को हुआ था.
-इंजीनियर, वैज्ञानिक और निर्माता मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया का जन्म 1861 को हुआ था.
-हरक्‍यूल पॉयरॉट, मिस मार्पल और पार्क पाइन जैसे जासूसी किरदारों में जान डालने वाली अगाथा क्रिस्‍टी का जन्‍म 1890 में हुआ था.
-भारत प्रसिद्ध हिन्दी साहित्यकार डॉ. रामकुमार वर्मा का जन्म 1905 को हुआ था.
-तमिलनाडु के प्रसिद्ध नेता और भूतपूर्व मुख्यमंत्री सी. एन. अन्नादुराई का जन्म 1909 को हुआ था.
-परमवीर चक्र सम्मानित भूतपूर्व भारतीय सैनिक लांस नायक करम सिंह का जन्म 1915 को हुआ था.
-मेरिकी अभिनेता और निर्देशक जैकी कूपर का जन्म 1922 में हुआ.
-प्रसिद्ध कवि एवं साहित्यकार सर्वेश्वर दयाल सक्सेना का जन्म 1927 को हुआ था.
-भारतीय अर्थशास्त्री, शैक्षणिक, और राजनीतिज्ञ, कानून मंत्री और न्यायमूर्ति भारत के लिए सुब्रमण्यम स्वामी का जन्म 1939 में हुआ.
-मुम्बई की झुग्गी बस्तियों के लिए संघर्ष करने वाले व्यक्ति जॉकिन अर्पुथम का जन्म 1946 में हुआ.
-भारतीय अभिनेत्री राम्या कृष्णन का जन्म 1967 में हुआ.
15 सितंबर को हुए निधन
-राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पाँचवें सरसंघचालक के एस सुदर्शन का निधन 2012 को हुआ था.
-15 सितंबर के महत्त्वपूर्ण अवसर एवं उत्सव
-अभियन्ता दिवस.
-संचायिका दिवस.