सिटी न्यूज़

यूपी सरकार देती है विधवा महिलाओं को पेंशन, आवेदन करने की है ये प्रक्रिया

यूपी सरकार देती है विधवा महिलाओं को पेंशन, आवेदन करने की है ये प्रक्रिया
UP City News | Sep 13, 2021 10:45 AM IST

लखनऊ. प्रदेश सरकार ने इस योजना में विधवाओं के लिए आर्थिक सहायता के रूप में धनराशि उपलब्ध कराई जाती है. विधवा पेंशन योजना विधवा महिलाओ के लिए है इस योजना के अंतर्गत राज्य की विधवा महिलाओ को यूपी सरकार द्वारा प्रतिमाह 500 रूपये की पेंशन धनराशि आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी. जिससे महिलाएं अपना भरण पोषण आसानी से कर सकती हैं और उन्हें किसी पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा. इस योजना के कार्यान्वयन से समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग का विकास किया जाएगा. इस योजना के तहत राज्य की केवल उन विधवा महिलाओ को पात्र माना जायेगा जिनकी स्थिति आर्थिक रूप से कमज़ोर है. इस योजना के तहत सरकार द्वारा दी जाने वाली धनराशि सीधे लाभार्थी विधवा महिलाओ के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाएगी.

ये है विधवा पेंशन योजना
प्रदेश में पेंशन योजना का शुभारम्भ केंद्र सरकार की मदद से योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा किया गया है इस योजना के अंतर्गत यू पी की निराश्रित विधवा महिलाओ को प्रतिमाह 300 रूपये की पेंशन धनराशि राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी. जिससे विधवा महिलाये ठीक तरह से अपना जीवनयापन कर सकती है.

यह योजना निराश्रित विधवा महिलाओ के कल्याण के लिए शुरू की है. योजना का लाभ यूपी की उन गरीबी रेखा से नीचे आने वाली विधवा महिलाओ को प्राप्त होगा जिनकी उम्र 18 से 60 वर्ष होगी. राज्य सरकार द्वारा प्रतिमाह दी जाने वाली 300 रूपये की पेंशन धनराशि सीधे विधवा महिलाओ के बैंक अकॉउंट में पंहुचा जाएगी इसलिए आवेदिका का बैंक खाता होना अनिवार्य है.

योजना का उदृेश्य
इस योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य की जिन महिलाओ के पति की मृत्यु के बाद उनका आर्थिक रूप से जीवन यापन करने के लिए कोई सहारा नहीं होता उन विधवा महिलाओ को उत्तर प्रदेश विधवा पेंशन योजना 2019 के तहत सरकार द्वारा प्रतिमाह 300 रूपये की पेंशन धनराशि वित्तीय सहायता के रूप में प्रदान करना तथा विधवा महिलाओ के आर्थिक रूप से जीवन स्तर को सुधारना है तथा बेहतर जीविका प्रदान करना है. उत्तर प्रदेश विधवा पेंशन योजना 2021 के ज़रिये विधवाओं को आत्मनिर्भर बनाना तथा सशक्त बनाना.

पेंशन योजना का लाभ
इस योजना में आर्थिक सहायता के रूप में दी जाने वाली धनराशि ​सिर्फ वही महिलाएं उठा सकती है. बी.पी.एल धारक तथा अन्य सभी गरीब विधवा महिलाओ को दिया जायेगा. अगर कोई विधवा महिला नौकरी करती हो या फिर कई ओर से पेंशन की हकदार हो ऐसी महिलाओं को विधवा पेंशन से वंचित रखा है. वहीं यदि विधवा ने इस योजना के दौरान दोबारा विवाह कर लिया तो वह इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा.

ऐसे करें आवेदन
इस योजना के अंतर्गत आने वाली विधवाओं की आयु 18 से 60 वर्ष होना जरूरी है. आवेनदकर्ता उत्तर प्रदेश की मूल निवासी होना अनिवार्य है. इस योजना में आवेदक को दस्तावेज के रूप में आधार कार्ड, राजशन कार्ड, पहचान पत्र, आय प्रमाण पत्र, बैंक खाता, जन्म प्रमाण पत्र, पति का मृत्यु प्रमाण पत्र, मोबाइल नंबर, पासपोर्ट साइज फोटो आदि दस्तावेज को दिखाना जरूरी है.
विभाग की अधिकारिक वेबसाइट पर जा कर अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है.