सिटी न्यूज़

कोरोना महामारी में भारत की मदद के लिए आगे आए कई देश, यहां पढ़े क‍िसने क्‍या भेजा

कोरोना महामारी में भारत की मदद के लिए आगे आए कई देश, यहां पढ़े क‍िसने क्‍या भेजा
UP City News | May 04, 2021 11:35 AM IST

नई दिल्ली. भारत में आई आपदा को देखते हुए दुनियाभर के कई देश भारत की मदद करने आगे आ रहे हैं. दूसरी लहर के शुरू होने से ही अब तक करीबन 14 देश कोरोना में भारत का सहारा बने हुए है. ऑक्सीजन सिलेंडर, वेंटीलेटर, बीआईपी एपी मशीन, ड्रग्स, रैपिड किट्स, हर तरीके से भारत को अन्य देशों का मदद मिल रहीं हैं.

केंद्र द्वारा बनाई गई सूची में बताया गया कि भारत को किन किन देशों से कितने उपकरण मिले हैं. डाटा के मुताबिक भारत को करीबन 17 चीज़ें भेजी गई हैं. जिसमें ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, मेडिकल ऑक्सीजन के सिलेंडर, वेंटिलेटर और बीपाप मशीनें, बेडसाइड मॉनिटर, एंटी वायरल दवाएं, कोविड-19 वायरस का पता लगाने के लिए रैपिड किट, पल्स ऑक्सीमीटर, N95 मास्क और व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण.

यूनाइटेड किंगडम ने सबसे पहले 24 अप्रैल को उपकरणों को भारत भेजा था, जहां उसने 95 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 20 ल्यूमिस बिपाप मशीनें, 20 वेंटिलेटर और संबद्ध उपकरण भेजे थे. जिन्हों राष्ट्रीय राजधानी के विभिन्न अस्पतालों में भेजा गया. रूस ने भी कोरोनावायरस बीमारी से संबंधित लक्षणों के इलाज के लिए इस्तेमाल होने वाली एंटी वायरल दवा फेविपिराविर के ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, फेफड़ों के वेंटिलेटर, बेडसाइड मॉनिटर और कम से 2 लाख पैक भेजकर भारत को मदद दी है.

यहां तक कि रोमानिया जैसे देशों ने कम से 75 ऑक्सीजन सिलेंडर और 80 ऑक्सीजन सिलेंडर भेजे. जिससे दिल्ली के अस्पतालों जैसे लेडी हार्डिंग, सफदरजंग और एम्स झंझार की मदद की. भारत को अब तक जो सबसे बड़ी मदद अमेरिका और संयुक्त अरब अमीरात की मिली है. अमेरिका ने दो अलग खेप में ऑक्सीजन सिलेंडर के अलावा 714,301 रैपिड डिटेक्शन किट, 125,000 रेमदेसीविर शीशियों, 994,800 N95 मास्क भेजे हैं. जबकि यूएई 480 वेंटीलेटर, 170,7600 मास्क और सैकड़ों और हजारों पीपीई किट पहुचाईं गई.