सिटी न्यूज़

लिव इन रिलेशनशिप में रही महिला को पेंशन का मामला मद्रास हाईकोर्ट में, बड़ी बेंच करेगी फैसला

लिव इन रिलेशनशिप में रही महिला को पेंशन का मामला मद्रास हाईकोर्ट में, बड़ी बेंच करेगी फैसला
UP City News | Jun 10, 2021 11:36 PM IST

चेन्नई: लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाली महिला ने पेंशन की मांग की है. मद्रास हाईकोर्ट के समक्ष यह सवाल आय़ा है कि क्या किसी व्यक्ति के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाली महिला को उस शख्स की मौत के बाद उसके सेवानिवृत्ति और पेंशन संबंधी लाभ पर कोई अधिकार रखती है. इस मामले में दावा करने वाली महिला उस शख्स की पहले गुजर चुकी पत्नी की ही बहन है.मद्रास हाईकोर्ट में यह सवाल उठाया गया है. एकल पीठ ने मामले को फैसले के लिए बड़ी बेंच को भेजने का फैसला किया है. दरअसल, कुंभकोणम में तमिलनाडु विद्युत उत्पादन और वितरण निगम के कर्मचारी रहे एस कलियापेरुमल का विवाह सुशीला नाम की महिला से हुआ था. उन्होंने अपनी पत्नी को आधिकारिक दस्तावेजों में नॉमिनी घोषित किया था.

पत्नी की मौत के बाद साली के साथ रहना शुरू किया
सुशील कैंसर से पीड़ित थीं तो उन्होंने अपनी बहन मलारकोडि को अपने ही पति से विवाह करने की स्वीकृति दे दी थी. तीनों एक ही घर में दंपति के तीन बेटों और तीन बेटियों के साथ रह रहे थे. बाद में सुशीला का निधन हो गया और कलियापेरुमल ने मलारकोडि को 2015 में अपना कानूनी उत्तराधिकारी बनाने के लिए आवेदन किया.

सहमत थे बेटे-बेटियां
इसके लिए उनके बेटे और बेटियां सहमत थे. निगम द्वारा नॉमिनी बदले जाने से पहले ही उसी साल कलियापेरुमल की भी मौत हो गई. लेकिन निगम ने कोई फैसला नहीं किया। इसलिए मलारकोडि की ओर से यह रिट याचिका दाखिल की गई. पहले तो यह केस सिंगल बेंच के पास पहुंचा, लेकिन इसके व्यापक प्रभाव को देखते हुए अब अंतिम फैसले के लिए मामले को वृहद पीठ को भेजने का फैसला किया गया है.