सिटी न्यूज़

केजरीवाल ने क्यों कहा, जिस दिन विदेश में दिल्ली की शिक्षा की तारीफ हुई, उसी दिन शिक्षा मंत्री के घर पहुंच गई सीबीआई

केजरीवाल ने क्यों कहा, जिस दिन विदेश में दिल्ली की शिक्षा की तारीफ हुई, उसी दिन शिक्षा मंत्री के घर पहुंच गई सीबीआई
UP City News | Aug 19, 2022 10:56 AM IST

नई दिल्ली. सीबीआई ने दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया के घर पर छापा मारा. सीबीआई अधिकारियों के मुताबिक टीम ने कुल 21 जगहों पर रेड मारी है, जो अभी तक जारी है. ये छापा एक्साइज विभाग के कई अफसरों और शाराब कारोबारियों के यहां हो रहा रहे हैं. इस रेड में मनीष सिसोदिया के अलावा तीन पब्लिक सर्वेट और शामिल है बाकी अन्य लोग है. मनीष सिसोदिया के यहां पर सीबीआई के छापेमारी पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बयान जारी कर मोदी सरकार पर निशाना साधा है. केजरीवाल ने बिना नाम लिए मोदी सरकार को घेरा.

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के यहां सीबीआई की रेड पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सीबीआई रेड की निंदा की. सीएम केजरीवाल ने कहा कि जिस दिन विदेशी अखबार मे दिल्ली की शिक्षा व्यवस्था की तारीफ की गई है उसी दिन सीबीआई ने दिल्ली के उपमुख्यमंत्री के आवास पर छापा मारा. केंद्र सरकार अच्छे काम को पसंद नहीं करती, तभी तो जो भी अच्छे काम करता है, उसके खिलाफ सीबीआई, ईडी और इनकम टैक्स की टीमों से छापा डलवाया जाता है, जो दिल्ली के विकास में रोड बन रहा है.

मनीष सिसोदिया ने अपने पहले ट्वीट में कहा है, सीबीआई आई है. उनका स्वागत है. हम कट्टर ईमानदार हैं. लाखों बच्चों का भविष्य बना रहे हैं. बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे देश में जो अच्छा काम करता है उसे इसी तरह परेशान किया जाता है. इसीलिए हमारा देश अभी तक नम्बर-1 नहीं बन पाया.

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री ने अपने दूसरे ट्वीट में कहा है कि हम सीबीआई का स्वागत करते हैं. जाँच में पूरा सहयोग देंगे ताकि सच जल्द सामने आ सके. अभी तक मुझ पर कई केस किए लेकिन कुछ नहीं निकला. इसमें भी कुछ नहीं निकलेगा. देश में अच्छी शिक्षा के लिए मेरा काम रोका नहीं जा सकता.

अपने तीसरे ट्वीट में मनीष सिसोदिया ने आरोप लगाया किये लोग दिल्ली की शिक्षा और स्वास्थ्य के शानदार काम से परेशान हैं. इसीलिए दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री और शिक्षा मंत्री को पकड़ा है ताकि शिक्षा-स्वास्थ्य के अच्छे काम रोके जा सकें. हम दोनों के ऊपर झूँठे आरोप हैं. कोर्ट में सच सामने आ जाएगा.