सिटी न्यूज़

पश्चिम बंगाल में भाजपा को झटका, ममता बनर्जी की मौजूदगी में मुकुल रॉय ने TMC ज्वाइन की

पश्चिम बंगाल में भाजपा को झटका, ममता बनर्जी की मौजूदगी में मुकुल रॉय ने TMC ज्वाइन की
UP City News | Jun 11, 2021 05:42 PM IST

कोलकाता. पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव हारने के बाद भारतीय जनता पार्टी को एक और बड़ा झटका लगा है. मुकुल रॉय अपने बेटे सुभ्रांशु के साथ अपनी पुरानी पार्टी तृणमूल कांग्रेस ज्वाइन कर ली है. उनकी जॉइनिंग के वक्त खुद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मौजूद रहीं. ममता बजर्नी के साथ उनके भतीजे सांसद अभिषेक बनर्जी भी तृणमूल भवन में मौजूद रहे. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपने पुराने सहयोगी का स्वागत करते हुए उन्हें अच्छा लड़का बताया और कहा कि उन्होंने टीएमसी के साथ गद्दारी नहीं की. ममता बनर्जी ने मुकुल रॉय को क्लीनचिट देते हुए कहा 'हमारा दल शक्तिशाली है, जिन लोगों ने हमारी पार्टी के साथ गद्दारी की, लेकिन मुकुल ने चुनाव के दौरान भी हमारे साथ गद्दारी नहीं की. जिन लोगों ने हमारी पार्टी के साथ गद्दारी की, उन्हें वापस नहीं लेंगे.'

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा को तृणमूल कांग्रेस के हाथों करारी हार का सामना करना पड़ा था, जबकि चुनाव से पहले कई टीएमसी के दिग्गजों ने बीजेपी का दामन थाम लिया था, लेकिन उनमें से अब कई लोग वापस अपनी पुरानी पार्टी में आना चाह रहे हैं. उसी में से एक बड़े चेहरे मुकुल रॉय हैं जिन्होंने टीएमसी ज्वाइन कर ली है. कहा यह भी जा रहा है कि मुकुल रॉय बीजेपी में शुभेंदु अधिकारी के बढ़ते कद को लेकर काफी बेचैन थे. यही वजह है कि वह अपनी पुरानी पार्टी में दोबारा लौटना चाह रहे थे.

बता दें कि पिछले दिनों चुनाव के नतीजे आने के बाद मुकुल रॉय टीएमसी में वापस आना चाह रहे थे. इसके संकेत टीएमसी नेता सौगत रॉय ने दिए थे. तब सौगत रॉय ने कहा था कि ऐसे बहुत से लोग हैं जो अभिषेक बनर्जी के संपर्क में हैं और वापस आना चाहते हैं. गौरतलब है कि पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में टीएमसी ने मुकुल राय को 6 साल के लिए पार्टी से बाहर कर दिया गया था. पार्टी से निकाले जाने के बाद उन्होंने बीजेपी ज्वाइन कर लिया था

यह बात जग जाहिर है कि टीएमसी में मुकुल रॉय का कद ममता बनर्जी के बाद दूसरे नंबर का हुआ करता था. मुकुल रॉय 1998 से बंगाल की राजनीति में सक्रिय हैं. उनका नाम नारदा स्टिंग केस में भी आ चुका है. ममता बनर्जी की तरह ही उन्होंने भी कॅरियर की शुरुआत यूथ कांग्रेस से की थी. जब ममता बनर्जी और वो यूथ कांग्रेस में थे. तब से दोनों एक दूसरे के काफी करीब रहे हैं.