सिटी न्यूज़

Gorkhpur : जिला अस्‍पताल की मोर्चरी में चूहों का तांडव, दुर्घटना में मृत युवक का चेहरा और नाक कुतरा

Gorkhpur : जिला अस्‍पताल की मोर्चरी में चूहों का तांडव, दुर्घटना में मृत युवक का चेहरा और नाक कुतरा
UP City News | Sep 21, 2022 04:35 PM IST

गोरखपुर. यूपी के गोरखपुर में स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों की लापरवाही ने सभी को हैरान कर दिया है. जिला अस्‍पताल की दुर्व्‍यवस्‍था का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि मोर्चरी में रखा दुर्घटना में मृत युवक के शव का चेहरा और नाक चूहों ने कुतर डाला है. जिला अस्‍पताल में शव के चेहरे और नाक को कुतरे जाने की घटना के बाद से हड़कंप मच गया है. मोर्चरी में शव को चूहों के कुतरने की ये पहली घटना नहीं है. कुछ साल पहले भी दो बार इस तरह की घटना हो चुकी है.

गोरखपुर के रामगढ़ताल थानाक्षेत्र के पोस्‍ट- बड़गो के सेंदुली-बेंदुली गांव के रहने वाले सुमित गौड़ (21 वर्ष) पुत्र अनिरुद्ध गौड़ और महबूब सिद्दीकी (20 वर्ष) पुत्र हैदर अली गांव में दुर्गा पूजा में प्रतिमा बैठाने की तैयारी कर रहे थे. गांव में लगे बरसात के पानी को निकालने के लिए गांव के छह लोग मंगलवार की शाम 4 बजे पिकप से पम्पिंग सेट लेने के लिए गए थे. खोराबार थानाक्षेत्र के जगदीशपुर फोरलेन पर पिकप हादसे का शिकार होकर पलट गई. पिकप में सवार छह लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. आनन-फानन में घायलों को जिला चिकित्‍सालय लाया गया.

जिला चिकित्‍सालय में चिकित्‍सकों ने सुमित गौड़ (21 वर्ष) और महबूब सिद्दीकी (20 वर्ष) को मृत घोषित कर दिया. हादसे में विशाल का हाथ कट गया. सुमित गौड़ (21 वर्ष) और महबूब सिद्दीकी (20 वर्ष) के शव को मोर्चरी में रख दिया गया. पन्‍नू सिद्दीकी और सानिब सिद्दीकी ने बताया कि रात में चूहों ने सुमित के शव के चेहरे और नाक को कुतर डाला. सुबह जब वे लोग शव को पोस्‍टमार्टम के लिए लेने के लिए आए, तो देखा कि चेहरे और नाक को चूहों ने कुतर डाला था.

इसकी शिकायत करने के लिए वे सीएमओ के पास गए, लेकिन उन्‍होंने मिलने से मना कर दिया. परिजनों का कहना है कि पहले तो सीएमओ नेक मिलने से मना कर दिया. इसके बाद बताया कि डी-फ्रीजर चल रहा है. लेकिन, राजू नाम के कर्मचारी ने बताया कि शव बाहर रखा था. डी-फ्रीजर खराब है. कर्मचारियों ने परिजनों को बताया कि यहां अक्‍सर इस तरह की घटना होती रहती है.गोरखपुर के सीएमओ आशुतोष दुबे ने बताया कि दुर्घटना में घायल दो युवकों के शवों को मोर्चरी में रखा गया था. उन्‍हें चूहों के द्वारा कुतरने की बात परिजनों ने बताई है.

उन्‍होंने बताया कि एडिशनल सीएमओ डा. एके चौधरी और डा. नंद कुमार के नेतृत्‍व में जांच कमेटी बनाई गई है. उन्‍होंने बताया कि ये गंभीर लापरवाही का प्रकरण है. उन्‍होंने जेई से बात की है. जेई ने बताया है कि डी-फ्रीजर सही है. शव को बाहर जमीन पर रखा गया था. इसी वजह से चूहों ने शव के चेहरे और नाक को कुतर दिया. इसकी जांच कराई जा रही है. दोषियों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई की जाएगी.

Comedian Raju Srivastava का निधन, 41 दिनों से अस्पताल में भर्ती थे वो