सिटी न्यूज़

नाबालिग से रेप के प्रयास मामले में आरोपी पर दोष साबित, दोषी को 4 साल की सजा

नाबालिग से रेप के प्रयास मामले में आरोपी पर दोष साबित, दोषी को 4 साल की सजा
UP City News | Aug 19, 2022 08:07 AM IST

गोरखपुर. नाबालिग को जबरन डरा धमका कर दुष्कर्म करने के प्रयास मामले में अदालत ने गुरुवार को एक आरोपी को सजा सुनाई है. अदालत ने अभियुक्त को 4 वर्ष 6 माह का कठोर कारावास और 15 हजार रुपये के अर्थदण्ड की सजा सुनाई है. गौरतलब है कि हाल ही में चंदन साहनी ने एक अबोधबालक राजन के साथ कुकर्म कर हत्या कर कुएं में डाल दिया था. जिसे चिलुआताल पुलिस ने 9 अगस्त को भेजा था.

गोरखपुर. पास्को अभियुक्त को कोर्ट ने साडे 4 साल की सुनाई सजा कोट नम्बर 404 ने मीरपुर निवासी 26 वर्षीय चंदन साहनी पुत्र शंभू साहनी को 4 साल 6 माह का कठोर कारावास 15000 अर्थदंड देने की सजा सुनाई. मीरपुर निवासी चंदन साहनी 2017 में अपने ही गांव की नाबालिग लड़की को जबरन डरा धमका कर दुष्कर्म करने का किया था. प्रयास उस समय चिलुआताल पुलिस ने अभियुक्त को गिरफ्तार कर जेल की हवा खिलाई थी. जहां 6 माह तक जेल मे रह कर आया था.

अधिवक्ता व परिवार के सदस्यों ने मुकदमे की त्वरित तरीके से पैरवी करते हुए अधिवक्ता अभियुक्त चंदन साहनी को सजा दिलाने में कामयाब हो सके. यह वही चंदन साहनी है जिसने अभी हाल ही में एक अबोधबालक के साथ कुकर्म करने के बाद हत्या कर लाश को कुएं में डाल दिया था. बदबू उठने के बाद गांव वालों ने चिलुआताल पुलिस को सूचना दी थी. जहां चौकी प्रभारी मजनू ने तत्परता दिखाते हुए कुएं में से लाश निकालने से पूर्व ही चंदन साहनी को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की थी. जिसे 9 अगस्त 2022 को जेल भेज दिया गया था.

साल 2017 में अपने गांव की एक नाबालिक लड़की अपने गांव सनराइज स्कूल मीरपुर से पढ़कर अपने घर चली गई थी. उसका टिफिन स्कूल में छूट गया था. अपने घर से स्कूल टिफिन लेने गयी स्कूल से घर जाते समय रास्ते में रोक कर जबरदस्ती दुष्कर्म करने का असफल प्रयास किया था. बृहस्पतिवार को विशेष न्यायाधीश पास्कोध् अपर सत्र न्यायाधीश ने 4 साल 6 माह का कठोर कारावास व 15000 अर्थदंड की सजा सुनाई जब तक साडे 4 साल का सजा चन्दन काटेगा.

उससे पूर्व अबोधबालक राजन के मामले में भी कोर्ट सजा सुना चुकी होगी. अब चंदन साहनी को जिंदगी भर सलाखों के पीछे ही रहना पड़ सकता है. पॉक्सो एक्ट में चार वर्ष की कठोर कारावास व दस हजार रुपये अर्थदण्ड से दण्डित किया है. अर्थदण्ड अदा ना करने पर 6 माह की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी. 354 में 5000 जुर्माना ना अदा करने पर 1 माह का अतिरिक्त सजा भुगतना पड़ेगा दोनों सजाएं साथ.साथ चलेंगी.

यूपी का मोस्ट वांटेड बाहुबली नेता राजन तिवारी गिरफ्तार, गोरखपुर गैंगेस्टर कोर्ट में किया पेश