सिटी न्यूज़

आज का इतिहास: नवाब सिराजुद्दौला ने 146 ब्रिटिश सैनिकों को किले के तहखाने में क्यों किया था कैद, जानिए

आज का इतिहास: नवाब सिराजुद्दौला ने 146 ब्रिटिश सैनिकों को किले के तहखाने में क्यों किया था कैद, जानिए
UP City News | Jun 20, 2022 07:03 AM IST

नई दिल्ली. इतिहास के पन्नों को पलटेंगे तो कई ऐसी रोचक और महत्वपूर्ण तथ्य सामने आएंगे जिन्हें पहले कभी नहीं जानते थे. 20 जून को पूरी दुनिया में बेहद खास घटनाएं घटी जिन्हें जानना हर नागरिक के लिए जरूरी है. बहुत सी घटनाएं बेहद सुखुद रहीं तो बहुत से हादसों में पूरे विश्व को हिलाकर रख दिया. यूपी सिटी आपको 20 जून के इतिहास को आपके सामने रखने जा रहा है. जो बेहद महत्वपूर्ण है.

कोठरी वाली कहानी में कितनी है सच्चाई
काल कोठरी (या अन्धकूप हत्या) नामक घटना स्वतंत्रता पूर्व काल की बंगाल की एक घटना है. ऐसा माना जाता है कि बंगाल के नवाब (सिराजुद्दौला) ने 146 अंग्रेज़ बंदियों, जिनमें स्त्रियाँ और बच्चे भी सम्मिलित थे, को एक 18 फुट लंबे, 14 फुट 10 इंच चौड़े कमरे में बन्द कर दिया था. 20 जून, 1756 ई. की रात को बंद करने के बाद जब 23 जून को प्रातः कोठरी को खोला गया तो, उसमें 23 लोग ही जीवित पाये गये. जीवित रहने वालों में 'हालवैल' भी थे, जिन्हें ही इस घटना का रचयिता माना जाता है. हालांकि इस घटना की विश्वसनीयता को इतिहासकारों ने संदिग्ध माना है और इतिहास में इस घटना का महत्व केवल इतना ही है, कि अंग्रेज़ों ने इस घटना को आगे के आक्रामक युद्ध का कारण बनाये रखा.जे.एच.लिटिल (आधुनिक इतिहासकार) के अनुसार "हालवैल तथा उसके उन सहयोगियों ने इस झूठी घटना का अनुमोदन किया था और इस मनगढ़न्त कथा को रचने का षड्यन्त्र किया था." हालवैल कलकत्ता का एक सैनिक अधिकारी था जिसको कलकत्ता का तत्कालीन गवर्नर 'डेक' सिराजुद्दौला से भयभीत होकर कलकत्ता का उत्तरदायित्व सौपकर भाग गया था.

20 जून की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
-मुहम्मद बिन कासिम ने 712 में सिंध में रावर पर हमला कर राजा दाहिर की हत्या की.
-नवाब सिराजुद्दौला के सैनिकों ने 1756 में ब्रिटिश सैनिकों को फोर्ट विलियम के तहखाने में कैद किया.
-ब्रिटेन की महारानी विक्टोरिया 1837 में बनीं.
-सैमुअल मोर्स ने 1840 में टेलीग्राफ का पेटेंट कराया.
-ग्वालियर किला ब्रिटिश सैनिकों द्वारा 1858 में कब्जा कर लिया गया और पहला सिपाही विद्रोह आधिकारिक तौर पर समाप्त हो गया.
-रोमानिया के प्रधानमंत्री बार्बू कटारगिउ की हत्या 1862 में की गई.
-पश्चिमी वर्जिनिया 1863 में अमेरिका का 35वां राज्य बना.
-अलेक्जेंडर ग्राहम बेल ने 1877 में कनाडा के ओंटारियो में दुनिया का पहला वाणिज्यिक टेलीफोन सेवा शुरू की.
-भारत का सबसे व्यस्ततम रेलवे स्टेशन 1887 में मुंबई स्थित विक्टोरिया टर्मिनस (छत्रपति शिवाजी टर्मिनस) लोगों के लिए खुला.
-पुणे में एसएनडीटी महिला विश्वविद्यालय की स्थापना 1916 में हुई.
-माली फेडरेशन (बाद में माली और सेनेगल में विभाजन) को 1960 में फ्रांस से स्वतंत्रता मिली.
-भारत सरकार ने 1996 में जिनेवा सम्मेलन में सीटीबीटी पर हस्ताक्षर करने से इंकार कर दिया.
-विश्वनाथन आनंद ने 1998 में ब्लादीमीर कैमनिक को हराकर पाचवीं फ़्रैकफ़र्ट क्लासिक शतरंज टूर्नामेंट का ख़िताब जीता.
-एकीकृत जर्मनी की राजधानी फिर से बर्लिन को बनाने के प्रस्ताव को संसद ने 1991 में मंजूरी दी.
-पीटर्सबर्ग, फ्लोरिडा में विकीमीडिया फाउंडेशन की स्थापना 2003 में की गई.
-रूस मालवाहक यान एम-53 अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष 2005 में स्टेशन पहुँचा.
-बीज बनाने वाली कम्पनी अवदात इण्डिया लिमिटेड ने 2008 में अमेरिकी कम्पनी लिमाग्रेन के सोयाबीन बीज के क़ारोबार का अधिग्रहण कियाV
-प्रख्यात कवि केदारनाथ सिंह को ज्ञानपीठ पुरस्कार की घोषणा 2014 में हुई.
20 जून को जन्मे व्यक्ति
–प्रसिद्ध उद्योगपति किर्लोस्कर उद्योग समूह’ के वे संस्थापक लक्ष्मण काशीनाथ किर्लोस्कर का जन्म 1869 को हुआ.
–कुशल पत्रकार तथा लेखक गौर किशोर घोष का जन्म 1923 को हुआ.